प्रवेश वर्मा की ट्वीट पर दिल्ली पुलिस का जवाब, अफवाह फैलाने से पहले सच्चाई जरूर जान लें

  • BJP नेता प्रवेश वर्मा ( Parvesh Verma ) का विवादित ट्वीट
  • दिल्ली पुलिस ( Delhi Police ) ने कहा- सच्चाई जानने के बाद करें ट्वीट
  • मस्जिद में नमाज पढ़ते हुए लोगों का वर्मा ने शेयर किया था वीडियो

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस ( Coronavirus ) संकट के बीच बीजेपी ( BJP ) सांसद प्रवेश वर्मा ( Parvesh Verma ) अपने ट्विट को लेकर विवादों में घिर गए हैं। उनके ट्वीट ( Tweet) पर दिल्ली पुलिस ( Delhi Police ) ने भी प्रतिक्रिया दी है। दिल्ली पुलिस ने प्रवेश वर्मा को जवाब देते हुए कहा कि किसी के बारे में ट्वीट करने से पहले एक बार सच्चाई का पता जरूर लगा लें।

दरअसल, बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा ने मस्जिद ( Masjid ) में नमाज पढ़ते हुए ट्विटर अकाउंट पर एक पुराना वीडियो शेयर करते हुए अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा था। इस पर दिल्ली पुलिस ने प्रतिक्रिया देते हुए जवाब दिया कि कुछ भी पोस्ट करने और अफवाह फैलाने से पहले उसकी सच्चाई जरूर जान लें। एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस वीडियो में कुछ लोग मस्जिद में नमाज पढ़ते हुए नजर आ रहे थे। बीजेपी सांसद ने वीडियो के साथ लिखा कि कोरोना संकट और लॉकडाउन के बीच क्या कोई धर्म इस चीज की इजाजत देता है? उन्होंने आगे लिखा कि लॉकडाउन के नियमों की धज्जियां उड़ रही है। सोशल डिस्टेंस मेंटेंन नहीं किया जा रहा है। वर्मा ने केजरीवाल पर तंज कसते हुए लिखा कि उन्होंने मौलवियों की तनख्वाह बढ़ाई। अगर उनकी सैलरी काटी जाती, तो इस तरह की हरकतें अपने आप रुक जाती। बीजेपी सांसद ने यहां तक लिखा था कि केजरीवाल क्या आपने दिल्ली को पूरी तरह तबाह करने की शपथ ली है?

इस पर पूर्वी दिल्ली के डीसीपी ने लिखा कि यह वीडियो पूरी तरह झूठा है। अफवाह फैलाने के इरादे से एक पुराने वीडियो का इस्तेमाल किया जा रहा है। कृपया कुछ भी पोस्ट करने या अफवाह फैलाने से पहले सच्चाई जांच लें। वहीं, दिल्ली पुलिस ने जैसे ही इस ट्वीट पर जवाब दिया बीजेपी सांसद ने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया। इस पूरे मामले पर आम आदमी पार्टी ( AAP ) के नेता संजय सिंह ( Sanjay Singh ) ने लिखा कि भाजपा नेताओं को शर्म आनी चाहिए कि वे ऐसे कठिन समय में भी नफरत और अफवाहें फैलाने में बिजी हैं।

AAP BJP
Show More
Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned