तोगड़िया के निशाने पर PM, कहा- तीन तलाक के लिए नहीं, राम मंदिर निर्माण के लिए चुनी थी सरकार

विहिप नेता तोगड़िया ने कहा कि सरकार को चाहिए है कि राम मंदिर निर्माण को लेकर सारी बाधाओं को दूर किया जाए।

नई दिल्ली। तीन तलाक मामले को लेकर अब पीएम नरेन्द्र मोदी विश्व हिंदु परिषद (विहिप) के निशाने पर आ गए हैं। पीएम व सत्तारूढ़ दल बीजेपी पर हमलावर हुए विहिप के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने कहा है कि मोदी सरकार को अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए चुना गया था, न कि तीन तलाक जैसे कानूनोें के लिए। उन्होंने कहा कि सरकार को चाहिए है कि राम मंदिर निर्माण को लेकर सारी बाधाओं को दूर किया जाए। यह बातें औरंगाबाद दौरे पर आए तोगड़िया ने एक प्रेस वार्ता में कही।

14 को होगी सुनवाई

विहिप नेता तोगड़िया ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए एक कानून बनाया जाना चाहिए। हालांकि उन्होंने तीन तलाक पर कानून का विरोध नहीं किया, लेकिन मंदिर निर्माण पर बनने वाले कानून की अति आवश्यक बताया। तोगड़िया ने कहा कि हमें कानून और न्यायपालिका में पूरा विश्वास है। लेकिन जब बात राम मंदिर निर्माण की आती है तो यह बिना कानून बनाए नहीं किया जा सकता। विहिप नेता ने कहा कि सीजेआई दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा है कि वह 14 मार्च को बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि प्रकरण में सुनवाई करेगी।

पिछले दिनों दिया था यह बयान

बता दें कि पिछले दिनों लापता होने के बाद बेहोशी की हालत में मिले विश्व हिंदू परिषद के अंतर्राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने कहा था कि उन्हें ऐसा लग रहा है कि उनकी हत्या की जा सकती है। उनके लापता होने की खबर मिलने के बाद तोगड़िया देर रात अहमदाबाद के शाही बाग इलाके में एक निजी अस्पताल में बेहोशी की हालत में मिले थे। तोगड़िया ने अहमदाबाद में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि एक दशक पुराने मामले को लेकर निशाना बनाया जा रहा है। मेरी आवाज को दबाने का प्रयास किया जा रहा है। राजस्थान पुलिस की टीम मुझे गिरफ्तार करने के लिए आई थी। किसी ने मुझे बताया कि मुझे मारने की योजना थी।

Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned