प्रकृति के बीच पहुंचे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, फॉरेस्ट डिपार्टमेंट से मिला खास मोमेंटो

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद गुरुवार को शिमला स्थित वाइल्ड लाइफ सेंचुरी पहुंचे। यहां उन्होंने विभिन्न प्रजातियों के पक्षियों के बारे में जानकारी ली

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद इन दिनों शिमला में हैं। बुधवार को उन्होंने द रिट्रीट में शिमला शहर के प्रबुद्ध वर्ग के लिए एट होम का आयोजन किया। राज्यपाल आचार्य देवव्रत व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर भी इस दौरान उपस्थित थे। राष्ट्रपति को मुख्यमंत्री ने राज्य पर्यटन विभाग की कॉफी टेबल बुक भेंट की। इसी कड़ी में गुरुवार को महामहीन शिमला के वाइल्ड लाइफ सेंचुरी पहुंचे।

विभिन्न प्रजातियों के पक्षियों की ली जानकारी

प्रकृति बीच वाइल्ड लाइफ सेंचुरी पहुंचे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने यहां अलग-अलग तरह के पक्षियों के बार वन विभाग के अधिकारियों से जानकारी भी ली। इस दौरान राष्ट्रपति का परिवार खास तौर पर उनके पोता और पोती भी साथ में मौजूद रहे। इस विजिट के बीच फॉरेस्ट डिपार्टमेंट की ओर से राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को खास पक्षियों से जुड़ा मोमेंटो ( स्मृति चिन्ह) भेंट किया गया। वीडियो में आप देख सकते हैं किस तरह महामहीम प्रकृति के बीच खुद को पाकर काफी उत्साहित नजर आ रहे हैं।

Fuel on Fire: तेल के खेल में ये है सियासत आैर अर्थव्यवस्था का फाॅर्मूला

बुक डिपो भी गए थे महामहीम

आपको बता दें कि इससे पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद मालरोड में मिनरवा बुक डिपो भी गये और दो पुस्तकें, जिनमें शिमला-कालका रेललाइन जिसे यूनेस्को की ओर से विश्व धरोहर घोषित से संबंधित राज भसीन की पुस्तक द टॉय ट्रेन व अमिश की अमर भारत पुस्तक खरीदी। उनके साथ पोता और पोती भी थे उनके लिए हैरी पोटर सहित १६ पुस्तकें खरीदी। उन्होंने जेब से क्रेडिट कार्ड निकाला और डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देते हुए बिल चुकाया। इसके बाद वह पैदल पत्नी सविता कोविंद के साथ रिज पर महात्मा गांधी की मूर्ति के पास पहुंचे और उन्हें नमन किया। उधर, सविता कोविंद ने ढली में विशेष बच्चों से मुलाकात की और उनसे बातचीत की। वह वहां काफी देर तक रुकीं भीं।

मोदी सरकार का दावा, चार साल में किया पांच साल का काम

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned