19 दिसंबर से जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लागू, केन्द्र ने सिफारिश को दी मंजूरी

अगामी 19 दिसंबर से जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लागू हो जाएगा।

नई दिल्ली। देश में इन दिनों सियासी माहौल गरमाया हुआ है। पहले विधानसभा चुनाव और अब जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रपति शासन को लेकर सियासी हलचल तेज हो गई है। जानकारी के मुताबिक, 19 दिसंबर से घाटी में राष्ट्रपति शासन लागू हो जाएगा। क्योंकि, केन्द्र ने इसकी सिफारिश को मंजूरी दे दी है।

19 दिसंबर से जम्मू-कश्मीर में लागू होगा राष्ट्रपति शासन लागू

जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक की रिपोर्ट पर सोमवार देर शाम हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में राष्ट्रपति शासन की सिफारिश की। अब इसे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद मंजूरी देंगे। इससे पहले राज्यपाल ने केंद्रीय गृह मंत्रालय को पत्र लिखकर राज्य में 19 दिसंबर को राज्यपाल शासन की अवधि छह महीने पूरे होने पर राष्ट्रपति शासन की सिफारिश की थी। राष्ट्रपति से मुहर लगने के बाद घाटी में राष्ट्रपति शासन लागू हो जाएगा। गौरतलब है कि जून में भाजपा के समर्थन वापस लेने के बाद महबूबा मुफ्ती सरकार गिर गई थी। इसके बाद कांग्रेस और नेशनल कॉन्फ्रेंस के समर्थन से पीडीपी ने फिर से सरकार बनाने की कवायद की थी। इस बीच, सज्जाद लोन ने भी भाजपा के समर्थन से सरकार बनाने का दावा किया था। इसके बाद राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने 21 नवंबर को विधानसभा को भंग कर दिया था।

केन्द्र ने सिफारिश को दी मंजूरी

यहां आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर के संविधान के अनुसार राज्य में छह महीने का राज्यपाल शासन अनिवार्य है। इसके बाद अगले छह महीने के लिए राष्ट्रपति शासन लगाया जाता है। इस दौरान राज्य में चुनाव की घोषणा करनी होती है। अगर चुनाव की घोषणा नहीं की जाती है तो राष्ट्रपति शासन अगले छह माह के लिए बढ़ाया जा सकता है। अब देखना यह है कि राष्ट्रपति शासन लागू होने के बाद आखिर कब चुनाव की तारीखों का ऐलान होता है।

BJP
Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned