पंजाब बंद के दौरान आतंकी घुसपैठ की आशंका, हाई अलर्ट पर प्रदेश

पंजाब बंद के दौरान आतंकी घुसपैठ की आशंका, हाई अलर्ट पर प्रदेश

Dhiraj Kumar Sharma | Publish: Aug, 13 2019 12:53:00 PM (IST) | Updated: Aug, 13 2019 02:27:48 PM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

  • Punjab Bandh का प्रदेशभर में दिखा असर
  • पांच जिलों के स्कूल बंद, बाजारों से भी रौनक गायब
  • आतंकी घुसपैठ की बड़ी आशंका के बीच High Alert पर Punjab

नई दिल्ली। रविदास समाज ने आज पंजाब में बंद ( Punjab Bandh ) का आह्वान किया है। पंजाब के कई इलाकों में इसका व्यापक असर भी दिखाई दे रहा है। खास बात यह है कि इस बंद के बीच खुफिया विभाग की ओर से बड़ी खबर सामने आई है। खुफिया विभाग के मुताबिक पंजाब में बंद के बीच कोई बड़ी आतंकी हमला ( Terrorist Attack ) हो सकता है। यही नहीं कई आतंकियों के घुसपैठ ( Terrorist intrusion ) की भी आशंका है। ऐसे में पंजाब में कड़ी सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं।

पंजाब सरकार ने राज्‍य में हाई अलर्ट जारी किया है।

यही नहीं प्रदेश के बड़े पांच जिलों में स्‍कूलों को बंद रखा गया है।

राज्‍य में पांच हजार अतिरिक्‍त पुलिस के जवान तैनात किए गए हैं।

इससे पहले सीएम अमरिंदर ने पीएम मोदी से इस मामले में दखल देने की अपील की थी।

370 हटने के बाद हिरासत में लिए अलगाववादी और राजनेता इस साल बाहर आना मुश्किल

police

ज्यादातर हिस्सों में बाजार बंद
राज्‍य में ज्यादातर जगहों पर सुबह से बाजार बंद हैं।

पठानकोट सहित कई जगहों पर रविदास समाज के लोग प्रदर्शन कर रहे हैं।

जालंधर, लुधियाना, होशियारपुर, गुरदासपुर व कपूरथला में सरकारी व प्राइवेट स्कूल बंद किए गए हैं।

शांति बनाए रखने का आवेदन
इस बीच केंद्रीय राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने डेरा सचखंड बल्ला में गद्दीनशीं श्री 108 संत निरंजन दास जी से मुलाकात कर उनका आशीर्वाद लिया।

उन्होंने भी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है।

 

cm

लद्दाख की सीमा के पास पाकिस्तान ने तैनात किए लड़ाकू विमान, अलर्ट पर भारतीय सेना

जाखड़ ने की अपील
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके पूर्व सांसद सुनील जाखड़ ने प्रदर्शन के दौरान आम लोगों को कोई परेशानी न हो इसकी अपील की।

इसलिए नाराज है रविदास समाज
दरअसल सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद दिल्ली स्थित रविदास मंदिर तोड़े जाने से रविदास समाज नाराज है।

उनका कहना है कि पुनः उसी स्थान पर मंदिर का निर्माण किया जाए।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned