राहुल गांधी ने आरबीआई को लिखा पत्र, कहा- केरल के किसानों से कर्ज वसूली की समय सीमा बढ़ा दी जाए

राहुल गांधी ने आरबीआई को लिखा पत्र, कहा- केरल के किसानों से कर्ज वसूली की समय सीमा बढ़ा दी जाए

Prashant Kumar Jha | Publish: Aug, 14 2019 09:28:56 PM (IST) | Updated: Aug, 14 2019 10:39:39 PM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

  • दिसबंर तक समय सीमा बढ़ाने की मांग
  • केरल में बाढ़ से अभी तक 95 लोगों की मौत
  • पिछले साल भी बाढ़ ने मचाई थी तबाही

वायनाड। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ( Rahul Gandhi ) ने केरल में आई बाढ़ को लेकर आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास से फसल ऋण चुकाने की समय सीमा बढ़ाने की मांग की है। राहुल गांधी ने आरबीआई गर्वनर शक्तिकांत दास को पत्र लिखकर समय सीमा आगे बढ़ाने की मांग की है। राहुल ने कहा कि "मैं आरबीआई से आग्रह करता हूं कि कर्ज (फसल ऋण) अदायगी की समयसीमा आगे कर दी जाए।" राहुल गांधी रविवार से ही अपने संसदीय क्षेत्र में हैं।

केरल में भारी नुकसान

राहुल गांधी ने कहा कि राज्यस्तरीय बैंकरों की समिति ने प्रदेश सरकार और विपक्षी दलों द्वारा की गई कर्ज अदायगी की समय सीमा 31 दिसंबर तक बढ़ाए जाने की मांग पर विचार करने से मना कर दिया है। उन्होंने कहा कि केरल में 2018 में 100 साल बाद सबसे प्रलयकारी बाढ़ आई है, जिसके बाद इस साल भी बाढ़ आई है, जिससे फसल बर्बाद हो गई है। "साथ ही, नकदी फसलों के दाम में दुनियाभर में गिरावट आने से किसान गंभीर रूप से प्रभावित हुए हैं।"

ये भी पढ़ें: पार्टी लाइन के खिलाफ लगातार बयान दे रहे भाजपा के बागी नेता अनिल शर्मा को निकाला गया

प्रदेश में करीब 95 लोगों की मौत

राहुल गांधी ने बताया कि सिक्योरिटाइजेशन एंड रिकंस्ट्रक्शन ऑफ फाइनेंशियल एसेट्स एंड एन्फोर्समेंट ऑफ सिक्योरिटी इंटेरेस्ट एक्ट 2002 के तहत बैंकों द्वारा किसानों से ऋण वसूली की प्रक्रिया तेज किए जाने के बाद कई किसानों ने आत्महत्या कर ली। इस साल बाढ़ के कारण प्रदेश में करीब 95 लोगों की मौत हो चुकी है और 1.89 लाख से ज्यादा लोग विस्थापित हो गए हैं।

ये भी पढ़ें: CWC की बैठक में जम्मू-कश्मीर का उठा मुद्दा, राहुल गांधी बोले- पीएम मोदी बताएं वहां क्या हो रहा ?

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned