राकेश टिकैत ने पुलिस पर लगाया आरोप, कहा-किसानों को बदनाम करने की रचि साजिश

Highlights

  • किसान नेता ने कहा कि अगर कोई घटना घटी है तो उसके लिए पुलिस प्रशासन को जिम्मेदार माना जाएगा।
  • कहा, ऐसा हो नहीं सकता कि कोई लाल किले पर पहुंच जाए और पुलिस की एक गोली भी न चले।

नई दिल्ली। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत के उकसावे वाले वीडियो वायरल हो चुके हैं। उन पर किसान आंदोलन में हिंसा भड़काने के आरोप लग रहे हैं। इस वीडियों में वे किसानों से उकसाने का काम करते नजर आ रहे हैं।

केरलः कोविड-19 से लड़ने के लिए सरकार ने सख्त प्रतिबंध को लागू करने का लिया फैसला

इस तरह के वीडियो सामने आने के बाद किसान नेताओं में भी फूट पड़ चुकी है। कई किसान नेताओं ने आंदोलन को छोड़ने का फैसला ले लिया है। वहीं पुलिस प्रशासन का कहना है किसानों ने परेड के लिए निर्देशित गाइडलाइन को फाॅलो नहीं किया है।

वहीं लाल किले पर हुई हिंसा को लेकर पूछे सवाल पर टिकैत ने कहा कि दिल्ली में ट्रैक्टर रैली काफी सफलतापूर्वक हुई। अगर कोई घटना घटी है तो उसके लिए पुलिस प्रशासन जिम्मेदार माना जाएगा। कोई लाल किले पर पहुंच जाए और पुलिस की एक गोली भी न चले। यह किसान संगठन को बदनाम करने की साजिश थी। किसान आंदोलन जारी रहेगा।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned