'भिंडरावाले' के झंडे पर राकेश टिकैत की टिप्पणी, कहा- बात करेंगे अगर ऐसा हुआ है तो गलत है

Highlights

  • तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान यूनियनों ने शनिवार को राष्ट्रव्यापी जाम लगाया था।
  • लुधियाना में किसानों के जाम के दौरान एक टैक्टर पर 'भिंडरावाले' जैसे शख्स की फोटो दिखी थी।

नई दिल्ली। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने 'भिंडरावाले' के झंडे वाली घटना पर सफाई पेश की है। राकेश टिकैत ने शनिवार शाम कहा कि इस मामले पर किसानों से बातचीत जारी रहेगी। अगर ऐसा हो रहा है तो ये गलत हुआ है। ऐसी चीज प्रतिबंधित है। दरअसल लुधियाना में किसानों के जाम के दौरान एक टैक्टर पर 'भिंडरावाले' जैसे शख्स की फोटो दिखी थी।

केंद्र सरकार के अनुसार तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान यूनियनों ने शनिवार को राष्ट्रव्यापी जाम लगाया था। इस दौरान पंजाब के लुधियाना शहर से जिस तरह की फोटो सामने आई है। ये चौंकाने वाली है। लुधियाना में हो रहे किसानों के जाम के दौरान एक ट्रैक्टर में लगे झंडे में जनरैल सिंह भिंडरावाले जैसे शख्स की फोटो दिखी थी।

राकेश टिकैत बोले- जो हुआ वो गलत

किसानों के जाम के दौरान भिंडरावाले' के झंडे को लेकर एक बार दोबारा किसान आंदोलन को लेकर सवाल खड़े हो गए हैं। भाकियू नेता राकेश टिकैत ने शनिवार को देर शाम कहा कि इस मामले पर किसानों से बात करेंगे। अगर ऐसा हुआ है तो गलत हुआ। जो चीज प्रतिबंधित है वो नहीं लगानी चाहिए।

पंजाब-हरियाणा में किसानों ने जाम लगाया

पंजाब और हरियाणा में किसान निकायों से जुड़े प्रदर्शनकारी किसानों ने शनिवार को अलग-अलग स्थानों पर स्टेट और नेशनल हाइवे पर जाम लगाया। इस कारण यात्रियों को काफी असुविधा का सामना करना पड़ा। भारती किसान यूनियन (एकता उग्रहां) के महासचिव सुखदेव सिंह कोकरिकलां के अनुसार वे पंजाब के संगरूर, बरनाला और बठिंडा समेत 15 जिलों के 33 स्थानों पर सड़कें जाम कर रहे हैं।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned