चुनाव से पहले भाजपा के लिए खुशखबरी, राम जेठमलानी ने पार्टी के खिलाफ चल रहा मुकदमा लिया वापस

चुनाव से पहले भाजपा के लिए खुशखबरी, राम जेठमलानी ने पार्टी के खिलाफ चल रहा मुकदमा लिया वापस

Kaushlendra Pathak | Publish: Dec, 06 2018 07:48:02 PM (IST) | Updated: Dec, 06 2018 08:14:29 PM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

राम जेठमलानी ने भाजपा के खिलाफ दायर मुकदमा को वापस ले लिया है।

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा के लिए एक बड़ी खुशखबरी आई है। पार्टी के पूर्व नेता और सीनियर वकील राम जेठमलानी ने पार्टी के खिलाफ दिल्ली के पटियाल हाउस कोर्ट में लंबित मुकदमे को खत्म करने के लिए आवेदन दिए हैं।

कोर्ट में दिया आवेदन

राम जेठमलानी ने गुरुवार को पटियाला हाउस कोर्ट में लंबित मुकदमे को खत्म करने के लिए आवेदन दिया। इस आवेदन से यह साफ हो गया है कि मलानी अब इस मामले को आगे नहीं बढ़ाना चाहते हैं। गौरतलब है कि भाजपा से निष्कासित किए जाने के बाद जेठमलानी ने पार्टी के खिलाफ मुकदमा दायर किया था। पांच साल से यह मुकदमा चल रहा था। लेकिन, चुनाव से पहले भाजपा को बड़ी राहत मिल गई है।

 

साल 2013 में मलानी को भाजपा से किया गया था निष्कासित

गौरतलब है कि साल 2013 भारतीय जनता पार्टी ने वरिष्ठ अधिवक्ता और राज्यसभा सदस्य राम जेठमलानी को अनुशासनहीनता के लिए पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया था। जेठमलानी को लिखे एक पत्र में भाजपा महासचिव अनंत कुमार ने कहा था कि पार्टी के संसदीय बोर्ड ने जेठमलानी को प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित करने के लिए सर्वसम्मति से निर्णय लिया। उस अनंत कुमार ने यहां तक कहा था कि पार्टी व्हिप का उल्लंघन करने के लिए जेठमलानी के खिलाफ अतिरिक्त कार्रवाई भी की जाएगी।

क्या किया था जेठमलानी ने

गौरतलब है कि जेठमलानी ने तत्कालीन पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर उनके इस्तीफे की मांगकर खुलेआम कर दी थी। उन्होंने इस सम्बंध में यशवंत सिन्हा और जसवंत सिंह का भी नाम लिया था और कहा था कि ये दोनों नेता भी गडकरी के इस्तीफे के मुद्दे पर उनकी राय से इत्तेफाक रखते हैं।

Ad Block is Banned