Ram Mandir Bhoomi Pujan: PM Modi के नाम आज एक साथ दर्ज हुआ 3 रिकॉर्ड

Ram Mandir Bhoomi Pujan: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज अयोध्या (Ayodhya ) में राम मंदिर ( Ram Mandir ) निर्माण के लिए भूमि पूजन किया। इस दौरान PM Modi ने एक साथ तीन रिकॉर्ड भी बनाए।

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अयोध्या ( Ayodhya ) में आज राम मंदिर ( Ram Mandir ) निर्माण के लिए भूमि पूजन का कार्य संपन्न हुआ है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने खुद इसकी आधारशिला रखी। इस मौके पर कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे। करीब 28 साल बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Modi in Ayodhya) अयोध्या पहुंचे। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तीन रिकॉर्ड (PM Modi Record) भी अपने नाम किया, जो आज तक किसी प्रधानमंत्री के नाम नहीं है।

PM Modi के नाम तीन रिकॉर्ड

आज का दिन भारत (India) के लिए काफी ऐतिहासिक है। क्योंकि, जिस राम मंदिर (Ram Mandir) की चर्चा सालों से हो रही थी उसकी नींव आखिरकार आज रखी गई। कई लोग इस पल के गवाह बने हैं। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने अपने नाम तीन रिकॉर्ड भी बनाया है। दरअसल, पीएम मोदी 28 साल बाद अयोध्या पहुंचे हैं। इससे पहले वह 1992 में पहली बार अयोध्या पहुंचे थे। श्रीराम जन्मभूमि जाने वाले नरेन्द्र मोदी देश के पहले प्रधानमंत्री बन गए हैं। इसके अलावा यह पहली बार था कि जब किसी प्रधानमंत्री ने हनुमानगढ़ी ( Hanuman Garhi ) का दर्शन किया है। वहीं, तीसरा रिकॉर्ड किसी मंदिर के शुभारंभ कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले पहले प्रधानमंत्री भी नरेन्द्र मोदी ( PM Narendra Modi ) बने हैं। इससे पहले इस तरह का एक साथ किसी प्रधानमंत्री ने कोई रिकॉर्ड नहीं बनाया है।

28 साल पहले अयोध्या पहुंचे थे PM Modi

यहां आपको बता दें कि साल 1992 में पीएम मोदी (PM Modi Ayodhya Visit ) पहली बार बीजेपी (BJP) के वरिष्ठ नेता और पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष मुरली मनोहर जोशी ( Murli Manohar Joshi ) के साथ अयोध्या पहुंचे थे। दरअसल, जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) से आर्टिकल 370 (Article 370) हटाने को लेकर एक यात्रा निकली थी, उसी क्रम में पीएम मोदी अयोध्या पहुंचे थे। इस दौरान जोशी और पीएम मोदी ने रामलला ( Ramlala ) के दर्शन भी किए थे। ठीक 28 साल बाद फिर पीएम अयोध्या पहुंचे और राम जन्मभूमि का दर्शन किया। यहां आपको यह भी बता दें कि जब लालकृष्ण आडवाणी ( Lal Krishna Advani ) ने गुजरात के सोमनाथ से अयोध्या के लिए रथ यात्रा निकाली थी, उस वक्त पीएम नरेन्द्र मोदी उनके सारथी बने थे। हालांकि, बिहार के समस्तीपुर में ही लालू प्रसाद यादव ने आडवाणी को गिरफ्तार करने के आदेश दे दिए थे। इस कारण उस समय केन्द्र की सरकार तक गिर गई थी।

Show More
Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned