भाजपा सांसद रीता बहुगुणा जोशी की पोती की पटाखों की चपेट में आने से मौत

  • प्रयागराज सांसद रीता बहुगुणा जोशी की मात्र 8 साल की थी पोती
  • यूपी सरकार ने 14 शहरों में पटाखों पर लगाया था खरीद और इस्तेमाल पर बैन

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता और प्रयागराज की सांसद रीता बहुगुणा जोशी के पोती की पटाखों के चपेट में आ जाने से मौत हो गई। वो मात्र आठ साल की थी। उसे एयर एंबुलेंस से दिल्ली के एम्स अस्पताल में लाया गया था। जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। आपको बता दें यह हादसा दिवाली के दिन हो गया था। वो उस समय 60 फीसदी जल गई थी। उसके बाद उसे दिल्ली लाया गया था। मौत की खबर मिलते ही पूरे घर में कोहराम मच गया।

इससे पहले प्रदेश सरकार ने यूपी के 14 शहरों में पटाखों को बैन कर दिया था। जिसमें एनसीआर रीजन के अलावा मुजफ्फरनगर, आगरा, वाराणसी, मेरठ, हापुड़, गाजियाबाद, कानपुर, लखनउ, मुरादाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, बागपत, बुलंदशहर शामिल हैं। इन तमाम शहरों में पटाखों बेचने के साथ-साथ जलाना भी बैन कर दिया गया था। आदेश के ना मानने वालों पर कढ़ी कार्रवाई के आदेश भी जारी कर दिए गए थे।

Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned