सबरीमला: साड़ी पहनकर 4 ट्रांसजेंडर ने किए भगवान अयप्पा के दर्शन

केरल में ऐतिहासिक सबरीमला मंदिर में महिलाओं को सुप्रीम कोर्ट द्वारा प्रवेश की इजाजत देने के बाद भी अबतक दर्शन करने के लिए विरोध का सामना करना पड़ता है।

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी केरल के ऐतिहासिक सबरीमला मंदिर में महिलाएं अबतक प्रवेश नहीं कर सकी हैं। वहीं मंगलवार को चार ट्रांसजेंडरों ने भगवान अयप्पा के दर्शन कर लिए हैं। इन लोगों को रविवार को मंदिर जाने की इजाजत नहीं मिली थी। लेकिन एक दिन पहले अनुमति प्राप्त करने के बाद उन्होंने आज दर्शन किए।

साड़ी पहन कर किए भगवान के दर्शन

सुबह एरुमेली पहुंचने के बाद एर्नाकुलम के चारों ट्रांसजेंडर भक्तों ने साड़ी पहनी और सुरक्षा के बीच पंबा से सुबह आठ बजे मंदिर की तरफ चढ़ाई शुरू की। सुबह 9.45 बजे यह लोग मंदिर परिसर पहुंचे और पूजा-अर्चना संपन्न की। इस दौरान किसी भी समूह द्वारा विरोध नहीं किया गया।

रविवार को पुलिस ने रोक था

रविवार को इन चारों को पुलिस ने पहाड़ी पर चढ़ाई पूरी करने से इसलिए रोक दिया था जब उन्होंने कहा था कि वे साड़ी में दर्शन करना चाहते हैं। इसके बाद उन्होंने कोट्टायम पुलिस अधीक्षक से शिकायत की और सोमवार को केरल उच्च न्यायालय द्वारा नियुक्त पुलिस महानिदेशक ए. हेमचंद्रन से भी संपर्क किया जो तीर्थयात्रा की देखरेख करने वाली तीन सदस्यीय समिति का हिस्सा हैं।

पहले भी सबरीमला आए हैं ट्रांसजेंडर

इसके बाद एक ट्रांसजेंडर अनन्या ने मीडिया को बताया कि उन्हें अनुमति मिल गई है। इन चार ट्रांसजेंडर की पहचान अनन्या, त्रिपाठी, अवंतिका और मंजू के रूप में हुई है। ट्रांसजेंडरों को पहले भी मंदिर में जाने की अनुमति मिलती रही है और इस समूह के लोगों ने यहां पूजा-अर्चना भी की है।

Read the Latest India news hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले India news पत्रिका डॉट कॉम पर.

Show More
Chandra Prakash Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned