सलमान खुर्शीद ने पूछा- जिस सीढ़ी पर चढ़कर ऊंचे मुकाम पर पहुंचे, क्या उसे गिराना सही

Highlights

  • मौजूद असंतुष्ट वरिष्ठ नेताओं को एक खुला पत्र लिखा है।
  • खुर्शीद ने कहा कि बलिदान के साथ सफलता मिलेगी ही यह जरूरी नहीं होता।

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने अपने दल में मौजूद असंतुष्ट नेताओं को एक खुला पत्र लिखा है। ये बगावती तेवर अपनाने वाले G-23 के नेता हैं, जिन्होंने ने हाल में पश्चिम बंगाल में कांग्रेस और आईएसएफ के गठबंधन को अनैतिक करार दिया था।

पीएम मोदी की रैली में सौरव गांगुली हो सकते हैं शामिल, बंगाल BJP अध्यक्ष ने दिए संकेत

खुर्शीद ने नेताओं को ओपन लेटर लिखकर पूछा है कि क्या वह पाला बदलने का सोच रहे हैं। उन्होंने असंतुष्ट नेताओं से पूछा कि जिस सीढ़ी पर चढ़कर वे जिंदगी के सबसे ऊंचे मुकाम पर पहुंचे हैं, क्या उसे गिराना सही है?'उन्होंने कहा कि वर्तमान में सही स्थान तलाशने की बजाय इस पर चिंतन करना चाहिए कि इतिहास उन्हें कैसे याद रखेगा।

उन्होंने कहा कि असंतुष्ट नेताओं को इस पर चिंता करने की बजाय कि उन्हें क्या मिला, कांग्रेस के अन्य नेताओं के साथ मिलकर देश के सामान्य कार्यकर्ता को दिखाना चाहिए कि वर्तमान में अंधेरे से निकलकर रोशनी में कैसे पहुंचना है। खुर्शीद ने कहा कि बलिदान के साथ सफलता मिलेगी ही यह जरूरी नहीं होता।

गौरतलब है कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के समूह ने शीर्ष नेतृत्व के खिलाफ बीते कुछ समय से मोर्चा खोला दिया है। हाल में जम्मू में गुलाम नबी आजाद के नेतृत्व में G-23 के नेताओं ने एक कार्यक्रम में पार्टी नेतृत्व पर निशाना साधा था। इससे पहले आनंद शर्मा ने पश्चिम बंगाल में इंडियन सेक्युलर फ्रंट (आईएसएफ) के साथ कांग्रेस के गठबंधन को लेकर भी सवाल उठाए थे।

BJP Congress
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned