ममता के करीबी राजीव कुमार की बढ़ी मुश्किलें, कभी भी हो सकते हैं गिरफ्तार

ममता के करीबी राजीव कुमार की बढ़ी मुश्किलें, कभी भी हो सकते हैं गिरफ्तार

  • राजीव कुमार याचिका खारीज
  • कभी भी गिरफ्तार हो सकते हैं राजीव कुमार
  • CBI ने राजीव कुमार को भेजा नोटिंस

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के करीबी और कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं। कोलकाता हाई कोर्ट ने राजीव कुमार की गिरफ्तारी पर रोक लगाने मांग वाली याचिका को खारिज कर दिया है।

यह भी पढ़ें-जम्मू-कश्मीर: फारूक और उमर अब्दुल्ला से मिलेंगे NC के दो सांसद, लेकिन बयानबाजी की

याचिका के खारीज होने के बाद उनकी गिरफ्तारी का रास्ता साफ हो गया है। फिलहाल सीबीआई की टीम डिप्टी पुलिस कमिश्नर के दफ्तर पहुंच चुकी है। यहां पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार का आवास है। सीबीआई ने राजीव कुमार को नोटिस भेजकर कल तलब किया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अब राजीव कुमार गिरफ्तारी से नहीं बच सकते। इसलिए अब सीबीआई उन्हें गिरफ्तार कर सकती है। बता दें कि कोलकता हाईकोर्ट में याचिका दाखिल करते समय राजीव कुमार ने तर्क देते हुए कहा था कि उन्हें जानबूझ कर फंसाया जा रहा है।

क्या हैं आरोप

ममता बनर्जी के करीबी माने जाने वाले राजीव कुमार पर सीबीआई का आरोप है कि उन्होंने पोंजी चिंट फंड घोटाला मामले में सबूतों के साथ छेड़छाड़ की है। बता दें कि राजीव कुमार घोटाले की जांच कर रही सीआईटी के प्रमुख थे। सीबीआई का यह भी आरोप है कि उन्होंने कुछ आरोपियों के कॉल डिटेल रिकॉर्ड उन्हें नहीं दिए। उन्होंने जो भी सबूत हैंडओवर किए उसके साथ छेड़-छाड़ की है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned