CBI डायरेक्टर आलोक वर्मा को पद से हटाया गया, सेलेक्ट कमेटी ने लिया फैसला

आलोक वर्मा पर रिश्वत का आरोप है। पिछले ढ़ाई महीनों से वर्मा छुट्टी पर चल रहे थे। 9 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद वो दोबारा पद संभाले थे।

नई दिल्ली: CBI डायरेक्टर आलोक वर्मा को पद दिए जाने के 36 घंटों के अंदर ही एक बार फिर पद से हटा दिया गया है। सेलेक्ट कमेटी ने आलोक वर्मा को हटाने का फैसला लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पर सेलेक्ट कमेटी की बैठक चल रही थी। उसमें आलोक वर्मा के नाम पर आम राय नहीं बन सकी । प्रधानमंत्री आवास पर हुई सेलेक्ट कमेटी की बैठक में पीएम मोदी, जस्टिस सीकरी, मल्लिकार्जुन खड़गे समेत समिति के सदस्य शामिल थे। गौरतलब है कि कमेटी को एक हफ़्ते में तय करना था कि आलोक वर्मा को हटाया जाएं या नहीं, लेकिन समिति ने अपना फैसला सुना दिया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक नागेश्वर राव एक बार फिर सीबीआई की जिम्मेदारी संभाल सकते हैं। खबर है कि आलोक वर्मा को फायर सेफ्टी विभाग का महानिदेशक नियुक्त किया गया है।

वर्मा ने पांच अधिकारियों के तबादले किए

गौरतलब है कि आलोक वर्मा ने नागेश्वर राव द्वारा किए गए तबादले को रद्द करते हुए आज ही पांच अधिकारियों को तबादला कर दिया था। राकेश अस्थाना केस की निगरानी के लिए अधिकारियों को तबदला किया गया था। रिश्वतकांड में आलोक वर्मा और राकेश अस्थाना को सरकार ने छुट्टी पर भेज दी थी।

सुप्रीम कोर्ट ने वर्मा को किया था दोबारा बहाल

शीर्ष अदालत ने 9 जनवरी को वर्मा को कुछ शर्तों के साथ सीबीआई निदेशक पद पर बहाल किया था। इस आदेश में केंद्र और सीवीसी को झटका देते हुए वर्मा से शक्तियां वापस लेने तथा उन्हें छुट्टी पर भेजने के उनके फैसले को निरस्त किया गया था। अदालत ने बहाली के साथ-साथ कहा था कि सीबीआई निदेशक का चयन करने वाली उच्च अधिकार प्राप्त समिति इस संबंध में एक सप्ताह के भीतर विचार कर सकती है क्योंकि सीवीसी उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच कर रही है। सीबीआई डायरेक्‍टर आलोक वर्मा 1986 बैच के ओडिशा काडर के अधिकारी हैं। उन्‍हें सरकार द्वारा छुट्टी पर भेजे जाने के बाद के नागेश्‍वर राव 23 अक्तूबर, 2018 को आधी रात के बाद वर्मा की जगह सीबीआई के अंतरिम निदेशक बने थे।

Show More
Prashant Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned