भारत बायोटेक के बाद सीरम ने जारी की फैक्टशीट, बताया किस मामले में नहीं लगवानी चाहिए वैक्सीन

Highlights

  • वैक्सीन के साइड इफेक्ट के कारण भारत बायोटेक ने फैक्टशीट जारी की थी।
  • बताया, किन लोगों को कोविशील्ड लगानी चाहिए और किन्हें इससे दूर रहना चाहिए।

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस के खात्मे के लिए 16 जनवरी से तेजी से टीकाकरण की शुरूआत हो चुकी है। देश में अभी वैक्सीनेशन के लिए सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की ऑक्सफोर्ड कोविशील्ड और स्वदेशी वैक्सीन भारत बायोटेक की कोवैक्सीन लगाई जा रही है।

प्रकाश जावेडकर ने राहुल गांधी पर किया पलटवार, कहा- कांग्रेस चाहती है, किसान-सरकार के बीच वार्ता को असफल हो जाए

वैक्सीन लगाने के बाद अब तक 541 लोगों को साइड इफेक्ट के मामले सामने आए हैं। वैक्सीन के साइड इफेक्ट के कारण भारत बायोटेक ने फैक्टशीट जारी की थी। अब सीरम इंस्टीट्यूट भी इस तरह के तथ्यों के साथ सामने आया है। उसने भी बताने की कोशिश की है कि किन लोगों को कोविशील्ड लगानी चाहिए और किन्हें इससे दूर रहना चाहिए।

सीरम की ओर से जारी फैक्टशीट तय किया गया है कि अगर आप रोजाना कोई दवा ले रहे हैं, कुछ दिनों से बुखार है, खून की कोई बीमारी है तो आप कोविशील्ड वैक्सीन न लें। वहीं प्रेग्नेंट महिलाएं और ब्रेस्ट फीडिंग कराने वाली महिलाओं को भी वैक्सीन की खुराक नहीं लेनी चाहिए।

सीरम के अनुसार इन्हें नहीं लगवानी चाहिए वैक्सीन

-आपको किसी दवा, खाने की चीज या किसी दूसरी वजह से कोई एलर्जी हुई है, तो कोविशील्ड बिल्कुल न लगाएं।
-अगर आपको बुखार या जुकाम है तो भी वैक्सीन नहीं लगानी है।
- आप अगर थैलसिमिया के मरीज हैं या रक्त संबंधी कोई बीमारी है, तो आपको वैक्सीन की खुराक नहीं लेना है।
- अगर कोई महिला प्रेग्नेंट हैं या फिर बच्चा प्लान करने की तैयारी कर रही हैं, तो उन्हें वैक्सीन नहीं लगानी है।
- ब्रेस्ट फीडिंग करा रही मांओं को भी वैक्सीन की खुराक नहीं लेनी है।
-अगर कोविड के खिलाफ पहले से कोई टीका लगा लिया है तो आपको कोविशील्ड नहीं लगानी है।
-इसके साथ पहली डोज के बाद अगर कोई एलर्जी हुई है तो वैक्सीन नहीं लेनी चाहिए।

सीरम इंस्टीट्यूट के मुताबिक वैक्सीन की पहली डोज देने के बाद 4 से 6 सप्ताह का गैप होना जरूरी है। इसके बाद दूसरी डोज दी जानी चाहिए। इस वैक्सीन के एक डोज की कीमत 200 रुपए रखी गई है। सीरम ने जारी फैक्टशीट में यह भी कहा है कि हो सकता है कि कोविशील्ड वैक्सीन सबका बचाव ना कर सके। कमजोर इम्यूनिटी वालों में इस वैक्सीन से हल्के साइड इफेक्ट हो सकते हैं। अगर ऐसा है तो तुरंत वैक्सीन देने वाले को बताएं।

कोविशील्ड के संभावित साइड इफेक्ट्स ये हैं

कंपनी के अनुसार अभी तक जो साइड इफेक्ट्स सामने आए हैं उसके आधार पर उनमें इंजेक्शन लगाने जाने की जगह पर दबाने से दर्द, गर्माहट, लाल हो जाना, खुजली, दर्द, सूजन या घाव शामिल है। इसके साथ तबियत ठीक नहीं लगना, थकान होना;कमजोरी, कंपकंपी या बुखार लगना, सिरदर्द, जोड़ों में या मांसपेशियों में दर्द की भी बात सामने आई है। हालांकि ये लक्षण दस में एक शख्स में देखने को मिल रही है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned