सावधान: RailYatri वेबसाइट से 7 लाख पैंसेंजर्स का डेटा लीक, सामने आई इतनी बड़ी सच्चाई

  • रेल यात्री (Railyatri) वेबसाइट यूज करने वाले यात्रियों को बड़ा झटका
  • सात लाख यूजर्स का डेटा लीक ( Railyatri Deta Leak ), कंपनी ने कहा- हम जांच कर रहे हैं

नई दिल्ली। भारतीय रेल (Indian Railway) यात्रियों ( Passengers ) को लेकर काफी चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है। 'रेल यात्री' ( Railyatri ) नामक वेबसाइट से सात लाख पैसेंजर्स का डेटा लीक (Deta Leak) हो गया। इनमें फर्सनल इन्फॉर्मेशन से लेकर क्रेडिट कार्ड (Credit Card), डेबिट कार्ड (Debit Card) और UPI डिटेल तक शामिल हैं। इस खुलासे के बाद हड़कंप मच गया है। हालांकि, कंपनी ने डेटा लीक रिपोर्ट को खारिज कर दिया, लेकिन जांच कराने की बात भी कही गई है।

सात लाख यात्रियों का डेटा लीक

दरअसल, भारत में रेल सेवा (Rail Services) को लेकर कई वेबसाइट (Website) यूज होती है। कई थर्ड पार्टी द्वारा टिकट बुकिंग भी कराई जाती है। इनमें एक रेल यात्री वेबसाइट (Railyatri Website) भी शामिल है। रिपोर्ट के मुताबिक, इस वेबसाइट से अचानक सात लाख पैसेंजर्स का डेटा लीक हो गया है। इस वेबसाइट पर यात्रियों के नाम, मोबाइल फोन नंबर, ईमेल आईडी और डेबिट कार्ड नंबर्स, UPI इन्फॉर्मेशन तक शामिल हैं। नेक्स्ट वेब ने एक रिपोर्ट में कहा है कि यूजर्स का डेटा जिस सर्वर पर रखा गया था वह सिक्योर नहीं था। कहा ये भी जा रहा है कि उसमें पासवर्ड तक नहीं था, साथ ही यात्रियों के डिटेल्स जिस सर्वर पर था वह एन्क्रिप्टेड भी नहीं था। कहा यह भी जा रहा है कि IP एड्रेस के जरिए कोई भी यूजर्स का डेटा ऐक्सेस कर सकता था। इस बात की जानकारी सेफ़्टी डिटेक्टिव्स नाम की साइबर सिक्योरिटी ( cyber Security ) फर्म ने दी है।

कंंपनी ने कहा-जांच जारी है...

रिपोर्ट के मुताबिक, 17 अगस्त को इसके बारे में केन्द्र सरकार (Central Government) की एजेंसी CERT को जानकारी दी गई थी। वहीं, नेक्स्ट वेब (Next Web) की रिपोर्ट के अनुसार बाद में कंपनी ने इस सर्वर को बंद कर दिया। इधर, कंपनी ने डेटा लीक मामले को सिरे से खारिज कर दिया है। लेकिन, कंपनी ने जांच कराने की भी बात कही है। 'रेल यात्री' (Railyatri Deta Leak) ने यह भी कहा है कि किसी यूजर्स का कोई भी आर्थिक डेटा लीक नहीं हुई है। कंपनी का कहना है कि हम कुछ ही डेटा स्टोर करते हैं, इनमें आर्थिक औऱ संवेदनशील डेटा शामिल नहीं है। फिलहाल, पूरे मामले की छानबीन की जा रही है।

Show More
Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned