scriptShramik Special train one and a half hours halted, passengers started bedlam | मजदूरों का हंगामा: आनंद विहार से पूर्णिया जा रही श्रमिक स्पेशल ट्रेन डेढ़ घंटा रुकी, यात्रियों ने शुरू की तोड़फोड़ | Patrika News

मजदूरों का हंगामा: आनंद विहार से पूर्णिया जा रही श्रमिक स्पेशल ट्रेन डेढ़ घंटा रुकी, यात्रियों ने शुरू की तोड़फोड़

Highlights

  • ट्रेन रुकने पर मजदूरों ने स्टेशन पर शुरू किया हंगामा
  • रेलवे अधिकारी- लाइन क्लियर ना होने के कारण रोकी गई ट्रेन
  • कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के डर से भागे रेल कर्मी

Updated: May 25, 2020 01:18:41 pm

लॉकडाउन (Lockdown 4.0) के कारण अलग-अलग राज्यों में फंसे मजदूरों को घर पहुंचाने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई गई हैं। इनमें जाने के लिए सरकार की ओर से कुछ नियम तय किए गए हैं। उसके बाद ही इन ट्रेनों (Shramik Special Trains) में सफर किया जा सकता है। लेकिन आनंद विहार से श्रमिकों को लेकर पूर्णिया जा रही श्रमिक स्पेशल ट्रेन (4072) में मजदूरों के हंगामे की खबर सामने आई है। घटना रविवार की है।
mazdoor.jpg
डर से भाग खड़े हुए रेल कर्मी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मजदूरों ने खरीक स्टेशन पर खूब हंगामा किया। वे ट्रेन से उतर गए और स्टेशन पर पत्थरबाजी और तोड़फोड़ करने लगे। मजदूरों की इस हरकत को देखकर रेल कर्मी डर गए और वहां से भाग खड़े हुए। लगभग डेढ़ घंटे बाद मजदूरों को जब ट्रेन के चलने की सूचना मिली, तब जाकर वे शांत हुए।
भूख से परेशान मजदूर

मजदूरों का कहना है कि वे परिवार और बच्चों के साथ हैं। भूख से उनका बुरा हाल है। इसके बावजूद ट्रेन पहले नारायणपुर में आधा घंटा रोकी गई। उसके बाद पूरा डेढ़ घंटा खरीक में ट्रेन को रोका गया। ट्रेन बार-बार रोके जाने से सबको परेशानी हो रही है।
संक्रमण के डर से भागे रेलकर्मी

रेलकर्मियों ने आरोप लगाया कि मजदूर ने हंगामा करते हुए स्टेशन मास्टर (SM) के कमरे को घेर लिया था। एसएम ने कार्यालय का गेट बंद करके किसी तरह से अपनी जान बचाई। वहीं दूसरी ओर, रेल कर्मी संक्रमण के डर के कारण वहां से भागे। यह देख मजदूरों ने स्टेशन पर तोड़फोड़ करनी शुरू कर दी।
लाइन क्लियर ना होने के कारण रोकी गई ट्रेन

नवगछिया स्टेशन अधीक्षक एनके तिवारी के अनुसार- आनंद विहार-पूर्णिया श्रमिक स्पेशल ट्रेन को लाइन क्लियर ना होने के कारण खरीक स्टेशन पर रोका गया था। लेकिन ट्रेन रोकने के कारण मजदूरों ने हंगामा शुरू कर दिया। जैसे ही लाइन क्लियर हुई, ट्रेन को खोल दिया गया। इसके अलावा बरौनी के बाद खगड़िया, कटिहार और पूर्णिया में ट्रेन का ठहराव था। नवगछिया में भी ट्रेन आधे घंटे के लिए रुकी। लेकिन सुरक्षा कड़ी होने के कारण यहां किसी ने विरोध नहीं किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

QUAD Summit: अमरीकी राष्ट्रपति ने उठाया रूस-यूक्रेन युद्ध का मुद्धा, मोदी बोले- कम समय में प्रभावी हुआ क्वाड, लोकतांत्रिक शक्तियों को मिल रही ऊर्जाWhat is IPEF : चीन केंद्रित सप्लाई चैन का विकल्प बनेंगे भारत, अमरीका समेत 13 देशWeather Update: दिल्ली में आज भी बारिश के आसार, इन राज्यों में आंधी-तूफान की संभावनाहरियाणा के जींद में सड़क हादसा: ट्रक और पिकअप की टक्‍कर में 6 की मौत, 17 घायलटाइम मैगजीन ने जारी की 100 प्रभावशाली लोगों की लिस्ट, जेलेंस्की, पुतिन के साथ 3 भारतीय भी शामिलHaj 2022: दो साल बाद हज पर जाएंगे मोमिन, पहला भारतीय जत्था 4 जून को होगा रवानाआ गया प्लास्टिक कचरे का सफाया करने वाला नया एंजाइमWomen's T20 Challenge: पहले ही मैच में धमाकेदार जीत दर्ज की सुपरनोवास ने, ट्रेलब्लेजर्स को 49 रनों से हराया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.