लालू के बेटे तेजप्रताप की सलाह, पटाखे से अच्छा है गुब्बारा फुलाकर फोड़िए

लालू के बेटे तेजप्रताप की सलाह, पटाखे से अच्छा है गुब्बारा फुलाकर फोड़िए

तेजप्रताप यादव कहा कि पटाखे छोड़ने से प्रदूषण फैलता है। दिवाली पर पटाखा फोड़ने से अच्छा है, बैलून फुलाइए और उसे फोड़िए।

पटना: लालू प्रसाद के पुत्र और बिहार के पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव ने दिल्ली वालों को दिवाली पर एक अनोखी सलाह दी है। तेजप्रताप यादव कहा कि पटाखे छोड़ने से प्रदूषण फैलता है। हम सभी को पर्यावरण के विषय में सोचना चाहिए। दिवाली पर पटाखा फोड़ने से अच्छा है, बैलून फुलाइए और उसको फोड़िए।


पटाखों से प्रदूषण होता है
पटना में पत्रकारों से चर्चा करते हुए तेजप्रताप यादव ने कहा कि दिल्ली में पटाखों पर प्रतिबंध लगा हुआ है। पटना में भी कम ही स्थानों पर पटाखे बेचे जा रहे हैं। उन्होंने कहा, पटाखा फोड़ने से तो प्रदूषण होता है। पटाखा फोड़ने से अच्छा क्या है, जानते हैं? पटाखा फोड़ने से अच्छा है बैलून फुलाइए और उसको फोड़िए। ऐसा करने से प्रदूषण भी नहीं फैलेगा।


राजनीति छोड़कर खुशियां बांटनी चाहिए
बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों को यह भी सलाह दी की कि दिवाली के मौके पर भगवान गणेश और मां लक्ष्मी की पूजा करें, जिससे देश में शांति बनी रहेगी और मन भी शांत रहेगा। उन्होंने लोगों को दिवाली की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि पर्व पर राजनीति छोड़कर सभी को खुशियां बांटनी चाहिए।


बंगला विवाद पर बोले- मुझे भैंस बांधने वाला बंगला मिला
इसके अलावा सरकारी बंगले के आवंटन को लेकर तेज प्रताप ने सरकार पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि वह जगह इंसानों के रहने लायत तो है ही नहीं। मुझे तो गाय-भैंस बांधने वाली जगह दी गई है। मैं इसमें रहूंगा कैसे। तेज प्रताप के तंज पर बिहार पर भवन निर्माण मंत्री महेश्वर हजारी ने कहा आप पहली बार जीत कर आए हैं इसलिए आपको यही आवास मिलेगा।


बंगला खाली कराने के लिए सरकार सख्त
बता दें कि बिहार में सरकारी बंगले को लेकर घमासान जारी है। सरकार ने सभी पूर्व मंत्रियों के दिवाली से पहले बंगला खाली करने का आदेश दिया था। अबतक बंगला खाली नहीं होने पर सरकार ने सख्ती दिखाई है। विभाग के के मंत्री महेश्वरी हजारी ने कहा कि जो पूर्व मंत्री बंगला खाली नहीं करेंगे उनके खिलाफ अब कानूनी कार्रवाई होगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned