तेलंगाना बस हादसा: मृतकों की संख्या बढ़कर हुई 52, पीएम मोदी ने जताया शोक

तेलंगाना बस हादसा: मृतकों की संख्या बढ़कर हुई 52, पीएम मोदी ने जताया शोक

तेलंगाना बस हादसे में मृतकों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है।

नई दिल्ली। तेलंगाना के जगतियाल जिले में मंगलवार को बस के खाई में गिरने की दुर्घटना में मरने वालों की संख्या 52 हो गई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हादसे पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि यह दुर्घटना गहरा दुख पहुंचाने वाली है जिसे शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता। इसमें लोगों की जान गई है। पीड़ित परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। मैं घायलों के जल्द स्वस्थ्य होने की कामना करता हूं।

'आधार डेटाबेस की सुरक्षा में सॉफ्टवेयर पैच के जरिए सेंध', कांग्रेस ने उठाए सवाल

खाई में गिर गई सवारियों से भरी सरकारी बस

पुलिस ने बताया कि तेलंगाना राज्य सड़क परिवहन निगम (टीएसआरटीसी) की बस हैदराबाद से 190 किलोमीटर दूर कोंडागट्टू पर्वत पर स्थित अंजनेया स्वामी मंदिर से लौट रही थी। बस कोंडागट्टू घाट रोड पर दुर्घटना का शिकार हो गई। बस में 60 से अधिक यात्री सवार थे। कहा जा रहा है कि चालक स्पीड ब्रेकर से गुजरते वक्त वाहन पर से नियंत्रण खो बैठा जिससे दुर्घटना हुई। मरने वालों में महिलाएं और सात बच्चे शामिल हैं। कुछ घायलों की हालत गंभीर होने के कारण मरने वालों की संख्या बढ़ने की आशंका है।

पीड़ित के परिजनों के लिए मुआवजे का ऐलान

मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने दुर्घटना पर दुख जताया और मृतकों के परिवारों को पांच-पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। जगतियाल जिला पुलिस अधीक्षक सिंधु शर्मा ने कहा कि यह दुर्घटना सुबह11 बजे हुई जब बस पहाड़ी से नीचे आ रही थी और राजमार्ग पर उतर रही थी। चालक ने स्पीड ब्रेकर पर ब्रेक लगाए जिससे जो जो यात्री खड़े होकर सफर कर रहे थे, वे एक तरफ गिर गए। इससे बस एक तरफ झुक गई और फिर लोहे की रेलिंग तोड़के हुए खाई में गिर गई।

खराब सड़क और टीएसआरटीसी की लापरवाही पर भड़के लोग

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि शवों के बीच फंसे कुछ घायल मदद के लिए चिल्ला रहे थे। पीड़ितों के रिश्तेदारों की जगतियाल अस्पताल में भीड़ है। परिवहन मंत्री महेंद्र रेड्डी भी दुर्घटनास्थल पर पहुंचे। स्थानीय लोगों ने सड़कों की खराब स्थिति और टीएसआरटीसी की कथित लापरवाही पर अधिकारियों के खिलाफ नाराजगी जताई है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned