बांदीपोरा में सेना ने तीन आतंकियों को उतारा मौत के घाट, हथियारों का जखीरा बरामद, एक जवान शहीद

बांदीपोरा में सेना ने तीन आतंकियों को उतारा मौत के घाट, हथियारों का जखीरा बरामद, एक जवान शहीद

Chandra Prakash Chourasia | Publish: Sep, 01 2018 10:30:21 PM (IST) | Updated: Sep, 02 2018 08:14:46 AM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

जम्मू कश्मीर के बांदीपोरा में मारे गए तीन आतंकियों के पास से हथियारों का बड़ा जखीरा मिला है। जो किसी बड़ी साजिश का संकेत देता है।

नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों के परिजनों को अगवा किए जाने के बाद भी सुरक्षा बलों का ऑपरेशन ऑल आउट जारी है। उत्तर कश्मीर के बांदीपोरा में शनिवार को सेना के हाथ उस वक्त एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी जब मुठभेड़ के दौरान तीन कुख्यात आतंकी मार गिराए गए। आतंकवादियों के पास से हथियार और गोला बारूद बरामद किए गए हैं। हालांकि इस दौरान एक जवान भी गंभीर रूप से जख्मी हुआ जिसने अस्पताल में दम तोड़ दिया। आतंकियों के मारे जाने के साथ ही ऑपरेशन बंद कर दिया गया है। एक दिन पहले ही आई रिपोर्ट में बताया गया था कि इस साल अगस्त महीने में सबसे ज्यादा 25 आतंकी मुठभेड़ में मारे गए हैं।

मारे गए आतंकियों के पास से मिला हथियारों का जखीरा

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने कहा कि बांदीपोरा के चंदाजान वन क्षेत्र में सेना ने एक आतंक विरोधी अभियान चलाया। घंटों एनकाउंटर के बाद सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया गया है। कर्नल कालिया ने कहा कि मारे गए आतंकवादियों के पास से हथियार और गोला बारूद बरामद किए गए हैं। आतंकियों की पहचान का पता लगाया जा रहा है। यह अभियान समाप्त हो गया है। खबर है कि आतंकियों ने हथियारों का एक बड़ा भंडार बना रखा था, जो किसी बड़ी साजिश का संकेत देता है।

सर्च ऑपरेशन से घबराए आतंकियों ने सुरक्षाबलों के परिजनों को किया रिहा

इससे पहले दक्षिण कश्मीर में आतंकवादियों ने गुरुवार को स्थानीय पुलिसकर्मियों के सात रिश्तेदारों को अगवा कर लिया। शुक्रवार की सुबह तक कुल 10 लोगों को आतंकियों ने अपने कब्जे में ले लिया। हालांकि करीब 12 घंटे तक सेना की जबरदस्त सर्च ऑपरेशन से घबराए आतंकियों ने सभी को रिहा कर दिया था। पुलिस ने बताया कि गुरुवार शाम को आतंकवादियों ने कुलगाम जिले के अरवनी इलाके के एक पुलिसकर्मी के बेटे जुबैर अहमद का अपहरण कर लिया। अरवनी से एक पुलिस अधिकारी के भाई आरिफ अहमद, कुलगाम के खारपोरा से एक पुलिसकर्मी के बेटे फैजान अहमद, कुलगाम के यारीपोरा से एक पुलिसकर्मी के बेटे सुमर अहमद राठेर और कुलगाम के काटापोरा से एक उप पुलिस अधीक्षक के भाई गौहर अहमद को अगवा किया गया। इससे पहले गुरुवार को आतंकवादियों ने मिदूरा त्राल से एक पुलिसकर्मी के बेटे नासिर अहमद का अपहरण कर लिया। आतंकवादियों ने बुधवार को पुलवामा जिले के त्राल में पिंग्लिश गांव के एक स्थानीय पुलिसकर्मी रफीक अहमद राथर के बेटे असिफ अहमद का अपहरण कर लिया था। हिजबुल कमांडर रियाज नाइकू ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर जारी एक बयान में कहा कि पुलिस ने आतंकवादियों को परिवारों के खिलाफ कार्रवाई करने पर मजबूर कर दिया क्योंकि पुलिस ने एक आतंकवादी के गैर-आतंकवादी रिश्तेदार को गिरफ्तार किया था। आतंकवादियों ने इसके बदले पुलिसकर्मियों के रिश्तेदारों को अगवा कर लिया था।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned