किसान आंदोलन: शाह से तोमर और गोयल ने की मुलाकात, बैठक की 'रणनीति' पर हुई चर्चा

Highlight

  • वार्ता से पहले इस बैठक को अहम माना जा रहा है।
  • सरकार और किसान संगठनों के बीच अब तक कुल पांच दौर की वार्ता हो चुकी है।

नई दिल्ली। केंद्र सरकार और किसान संगठनों के बीच 30 दिसंबर को वार्ता होगी। इससे पहले मंगलवार शाम को अमित शाह से कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर और पीयूष गोयल ने मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने बुधवार को होने वाली वार्ता के बारे में चर्चा की। वार्ता से पहले इस बैठक को अहम माना जा रहा है।

ब्रिटेन से भारत आने वाली उड़ानों पर लगी अस्थायी रोक को बढ़ाया जा सकता है: हरदीप सिंह पुरी

किसानों के साथ वार्ता में केंद्र का प्रतिनिधित्व करने वालों में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर,रेल मंत्री गोयल और वाणिज्य और उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश शामिल होंगे।

सरकार और किसान संगठनों के बीच अब तक कुल पांच दौर की वार्ता हो चुकी है। इसके बाद छठे चरण की वार्ता नौ दिसंबर को प्रस्तावित बैठक से पहले गृह मंत्री अमित शाह ने किसान नेताओं के साथ अनौपचारिक बातचीत की थी।

उन्हीं के सुझाव के आधार पर सरकार की ओर से किसान संगठनों को उन मुद्दों की सूची भेजी गई, जिन्हें बीती वार्ताओं में चयनित किया गया था। मगर उस प्रस्ताव को किसान संगठनों पूरी तरह से नाकार दिया था। इसके बार आंदोलन को तेज करने की घोषणा कर दी।

गौरतलब है कि किसान संगठनों ने 30 दिसंबर को सरकार के साथ अहम बातचीत के लिए हामी भरी है। मगर वे नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर पूरी तरह से अड़े हुए हैं।

Amit Shah
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned