Tractor rally: हिंसा के बाद दिल्ली के इन इलाकों में बंद हुआ इंटरनेट, रात 12 बजे तक बंद रहेगी सेवा

  • दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में रात 12 बजे तक इंटरनेट सेवा पर रोक
  • किसान ट्रैक्टर रैली के दौरान हिंसा की घटना के बाद केंद्रीय गृहमंत्रालय ने लिया फैसला

Tractor rally: नए कृषि कानूनों के खिलाफ आज आंदोलन के 62वें दिन किसान ट्रैक्टर मार्च (Kisan Tractor March) निकाल रहे हैं। लेकिन किसानों के ट्रैक्टर परेड ने हिंसा का रूप ले लिया है। ITO पर हंगामें के बाद कई किसान लाल किले पर पहुंच गए हैं। ट्रैक्टर में सवार सैकड़ों आंदोलनकारी लाल किला परिसर में पहुंच हंगामा शुरू कर दिया है ।

Tractor rally: ITO पर हुए हंगामे में एक शख्स की मौत, किसानों ने कहा- ‘पुलिस फायरिंग में गई जान’

अब खबर आ रही है कि हिंसा की घटना के चलते बाद सिंघु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर, गाजीपुर बॉर्डर, मुबारका चौक और नांगलोई में इंटरनेट की सर्विस अस्थाई तौर पर रोक दी गई है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आज रात 12 बजे तक इन सभी इलाकों में इंटरनेट सेवा पूरी तरह से बंद रहेगी।

इसके अलावा नार्थ दिल्ली में भी इंटरनेट सेवाओं को बंद रखने के लोगों को sms मिले हैं हालांकि आधिकारिक पुष्टि पुलिस ने अब तक नही की है। लेकिन मयूर विहार, पांडव नगर और अक्षरधाम इलाकों में भी लोगों को कहना है कि वो इंटरनेट नहीं चा परे हैं।

इसके अलावा इस हिंसा को देखते हुए दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने एडवाइजरी जारी किया है। पुलिस ने कहा है कि एनएच 44, जीटीके रोड, आउटर रिंग रोड, सिग्नेचर ब्रिज, जीटी रोड, आईएसबीटी रिंग रोड, विकास मार्ग, आईटीओ, एनएच 24, निजामुद्दीन खट्टा, नोएडा लिंक रोड, पीरागढ़ी और आउटर दिल्ली, पूर्व और पश्चिम दिल्ली सीमा क्षेत्रों में में ना जाए।

Tractor Rally: बेकाबू किसान, बेबस पुलिस दिल्ली समेत इन राज्यों में छिड़ा संग्राम, जानिए मार्च से जुड़ी बड़ी बातें

बता दें हंगामे की शुरूआत सिंघु बॉर्डर से हुई, वहां किसानों ने सड़क पर लगे बैरिकेड तोड़ ट्रैक्टर मार्च निकाला था। इसके बाद किसान दिल्ली की ओर बढ़ने लगे और पूर्व निर्धारित मार्ग से हटकर अपनी परेड आईटीओ सहित कई अन्य स्थानों पर ले जाने लगे। किसानों को रोकने के लिए दिल्ली पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले भी दागे।

 

 

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned