'कोवैक्सीन' के ट्रायल प्रमुख का दावा, वैक्सीन लगने के बाद हो सकती है परेशानी

Highlights

  • वैक्सीन को लेकर कई तरह की संभावनाएं जताई जा रही हैं।
  • प्रतिरक्षण के बाद शरीर में प्रतिकूल बदलाव हो सकते हैं।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस से पूरी तरह निजात पाने के लिए दुनिया भर के लोग लंबे समय से वैक्सीन का इंतजार कर रहे हैं। इसे लेकर कई तरह की संभावनाएं जताई जा रही हैं।

इसी बीच एम्स में 'कोवैक्सीन' के ट्रायल के प्रमुख अन्वेषक और सेंटर फॉर कम्यूनिटी मेडिसिन के प्रोफेसर डॉ.संजय राय का कहना है कि किसी भी प्रतिरक्षण के बाद शरीर में प्रतिकूल बदलाव हो सकते हैं।

इसमें कुछ परेशानियां बुखार और दर्द जैसी स्थिति पैदा हो सकती है। वहीं कुछ टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम या एनाफिलेक्टिक शॉक की तरह गंभीर भी हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह की परेशानियां 'कोवैक्सीन' लगने के बाद भी शुरू हो सकती है। इसके लिए हमें तैयार रहने की आवश्यकता है।

जहां वैक्सीन दी जानी है, वहां व्यवस्था की जा रही है। सरकार के दिशा-निर्देशों में यह भी प्रावधान है कि यदि किसी स्थान पर सरकारी सुविधाएं अच्छी नहीं हैं,तो प्राइवेट सेक्टर के साथ मिलकर काम किया जा सकता है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned