Lockdown-2.0: नहीं मिला मां का आशीर्वाद, मंत्री कैलाश की मदद से हुए अंतिम दर्शन

  • -लॉकडाउन में फंसे बेटे, मां ने तोड़ा दम
  • मंत्री ने सोशल मिडिया के जरिए की मदद

विवेक श्रीवास्तव

नई दिल्ली। कोरोना के चलते लगे लॉकडाउन के कारण दो बेटे अपनी मां के अंतिम समय में आशीर्वाद से वंचित रह गए, हालांकि केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री और बाड़मेर जैसलमेर सांसद कैलाश चौधरी के प्रयासों से अंतिम यात्रा में अवश्य शामिल हुए।

दरअसल, बाड़मेर जिले के पचपदरा कस्बे में रहने वाले रामचंद्र खारवाल की पत्नी रेखा देवी की तबीयत पिछले कई दिनों से खराब चल रही थी लेकिन लॉकडाउन के चलते दोनों व्यापारी बेटे अहमदाबाद में फंसे थे, 14 के बाद लॉकडाउन आगे बढ़ने के साथ ही उनकी वापसी की उम्मीदें खत्म हो गई थी।

लॉकडाउन में दिल्ली फंस गए पप्पू यादव, जानें फिर नीतीश कुमार को चिठ्ठी में लिखी क्या बात?

इसी दौरान रेखा देवी की तबियत ज्यादा खराब होने के चलते उन्हें जोधपुर रैफर कर दिया और उधर दोनों भाइयों ने ने राजस्थान वापसी के लिए इधर उधर से जुगत लगाने के प्रयास शुरू किए लेकिन होनी को कुछ और ही मंजूर था।

bb.jpg

शनिवार देर रात रेखा देवी ने दम तोड़ दिया और दोनों बेटों के आखिरी दर्शन के अरमान भी टूट गए। अब दोनों भाइयों प्रकाश और पंकज की एक ही इच्छा थी कि किसी भी तरह से अंतिम यात्रा में शामिल हो जाएं।

रविवार सुबह 6 बजे यह सूचना उन्होंने मंत्री कैलाश चौधरी तक पहुंचा उनसे मदद की गुहार लगाई। चौधरी ने दिल्ली से अहमदाबाद जिला कलक्टर को फोन कर अनुमति दिलाने के प्रयास किए, लेकिन लैंडलाइन पर बात नहीं हो पाई, इसके बाद चौधरी ने ट्विटर पर जिला कलक्टर और राजस्थान के रहने वाले गुजरात कैडर के दो आइएएस अधिकारियों से इस मामले में प्रकाश की मदद के लिए कहा।

नो मास्क, नो फ्यूल: मास्क नहीं लगाया तो नहीं मिलेगा पेट्रोल-डीजल, देशभर में लागू नियम

 

 

pankaj_kharwal_1.jpg

कुछ देर बाद ही ट्विटर पर आइएएस देव चौधरी ने जवाब देते हुए कहा कि दोनों भाइयों को अनुमति दे दी गई है। इसके बाद चौधरी ने अहमदाबाद कलक्टर के के निराला से फोन पर बात कर आवश्यक इंतजाम करने के भी निर्देश दिए।

अनुमति मिलने के बाद शाम 5 बजे दोनों भाई अपने परिवार सहित पचपदरा पहुंचे और अपनी मां के अंतिम संस्कार में शामिल हुए।

प्रकाश खारवाल ने बताया कि उनका पूरा परिवार इस मदद के लिए कैलाश चौधरी का आभारी है। संकट की घड़ी में कैलाश हमारे लिए हनुमान साबित हुए है।

Lockdown 2.0: गैस आधारित परियोजनाओं पर 20 अप्रैल से काम शुरू करेगी गेल इंडिया लिमिटेड

prakash_kharwal.jpg

लॉकडाउन 2.0: देश के 300 जिलों में कल से छूट की संभावना, बंद रहेगी दिल्ली

कैलाश चौधरी (केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री) - लॉकडाउन की घोषणा के बाद से दिल्ली रहकर जनता की मदद करने का निश्चय किया है और यहां से फोन पर बात कर सबकी हरसंभव मदद करने का प्रयास कर रहा हूं। एक बेटे के लिए मां के अंतिम दर्शन बहुत ब?ी बात होता है, इस दर्द का मुझे एहसास है।

Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned