आखिर गूगल प्ले स्टोर से क्यों गायब हो गया सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला यूसी ब्राउजर?

Navyavesh Navrahi

Publish: Nov, 15 2017 06:14:18 (IST)

Miscellenous India
आखिर गूगल प्ले स्टोर से क्यों गायब हो गया सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला यूसी ब्राउजर?

देश में 10 करोड़ से ज्यादा हैं यूजर्स, डाटा कलेक्ट के आरोप भी लगे थे...

नई दिल्ली | देश में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला मोबाइल ब्राउजर यूजी ब्राउजर गूगल के प्ले स्टोर से हटा लिया गया है। इसे हटाने के बारे में कई तरह की बातें सामने आ रही हैं। आइए हम आपको बताते हैं कि असल में पूरा मामला क्या है।

क्या है यूसी ब्राउजर
चीनी ई-कॉमर्स की दिग्गज अली बाबा के स्वामित्व वाला UC ब्राउजर ऐप भारत में डाउनलोड किया जाने वाले छठे नंबर का ऐप है। फिलहाल प्ले स्टोर में सर्च करने पर यह ऐप नहीं दिख रहा है। भारत में ये ब्राउजर काफी पॉपुलर है और दुनिया भर में इसके 420 मिलियन यूजर्स हैं। जिनमें से 100 मिलियन सिर्फ भारत में ही हैं। यानी 10 करोड़ भारतीय यूजर वाला UC ब्राउजर को अगर गूगल ने प्ले स्टोर से हटाया गया है तो इसके पीछे कोई तो कारण रहा होगा!

एक यूजर का दावा
ट्विटर पर एक यूजर ने ये दावा करते हुए पोस्ट किया है कि वे यूसी ब्राउजर का कर्मचारी है। उसे मेल मिला है कि इसे टेम्पोरेरी तौर पर 30 दिन के लिए गूगल प्लेस्टोर से हटाया गया है क्योंकि इसे प्रमोट करने के लिए गुमराहपूर्ण तरीके अपनाए जा रहे हैं।

 

 

लगे थे डाटा क्लेक्ट करने के आरोप
जानकारी के अनुसार इससे पहले भी यूसी ब्राउजर पर डेटा कलेक्ट करने का आरोप लगा है। हालांकि गूगल प्ले स्टोर पर यूजी ब्राउजर मिनी और न्यू यूसी ब्राउजर मौजूद हैं। यूसी ब्राउजर ने पिछले कुछ सालों में भारतीय स्मार्टफोन्स यूजर्स में तेजी से अपनी पकड़ बनाई है और अब इसका मार्केट शेयर आधे से ज्यादा है।

सरकार ने भी जताया था एतराज
सबसे पहले प्ले स्टोर से यूसी गायब होने के बारे में एक रेडिट यूजर ने बताया है। इसी साल अगस्त में सरकार ने स्कैनिंग में पाया था कि यूसी ब्राउजर एप यूजर का जरूरी डाटा चीन में मौजूद रिमोट सर्वर पर ट्रांसफर कर रहा है। यह भी कहा गया कि फोन से डाटा डिलीट करने के बाद सर्वर उस डाटा का इस्तेमाल करता था। इतना ही नहीं 2015 में कनाडा के एक रिसर्चर ने दावा किया था कि चीनी और इंग्लिश लैंग्वेज वर्जन यूसी ब्राउजर की वजह से पर्सनल डीटेल्स जैसे लोकेशन, सर्च डीटेल्स और सब्सक्राइब डिवाइस नबंर हासिल किया जा सकता है। हालांकि बाद में कंपनी ने बयान जारी करके सफाई भी दी। बता दें, यूसी ब्राउजर ने हाल में घोषणा की थी कि उसके एप को 50 करोड़ यूजर डाउनलोड कर चुके हैं। क्लिनर पर्किंस द्वारा जारी की गई इंटरनेट ट्रेंड्स रिपोर्ट 2017 के मुताबिक यूसी ब्राउजर भारत में सबसे ज्यादा डाउनलोड किए जाने वाले एप की सूची में छठे स्थान पर है। वहीं एंड्रॉयड अथॉरिटी की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में यूसी ब्राउजर के 10 करोड़ सक्रिय मासिक यूजर हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned