UDAN 4.0 के तहत 78 नए मार्गों पर उड़ानें करेंगी आवाजाही आसान

  • केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने राज्यसभा में दी जानकारी।
  • उड़ान 4.0 के पहले चरण के तहत 78 नए वायु मार्गों की पहचान और मंजूरी।
  • एएआई इन मार्गों को चुने गए एयरलाइन ऑपरेटरों को देने करने की प्रक्रिया में लगा।

नई दिल्ली। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने सोमवार को कहा कि उड़ान 4.0 ( UDAN 4.0 ) के पहले चरण के तहत 78 नए वायु मार्गों की पहचान करने के साथ और इन्हें मंजूरी दी गई है। केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा कि भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) इन मार्गों को चयनित एयरलाइन ऑपरेटरों (SAO) को प्रदान करने की प्रक्रिया में जुटा है।

स्पाइसजेट की रोज दरभंगा से दिल्ली-मुंबई-बेंगलुरु की फ्लाइट, पहले से ही करा लें बुकिंग

नागरिक उड्डयन मंत्री ने राज्यसभा को एक लिखित जवाब में कहा कि क्षेत्रीय कनेक्टिविटी योजना (RCS)- उड़े देश का आम नागरिक (UDAN) के तहत तीन दौर की बोली लगाने के बाद 688 वैध मार्गों को जोड़ा गया था, जिनमें से 281 मार्गों पर परिचालन शुरू किया जा चुका है।

बयान में कहा गया है, "25 मार्च 2020 से 24 मई 2020 तक घरेलू उड़ान संचालन को स्थगित करने के बाद, आरसीएस संचालन सहित घरेलू हवाई सेवाओं को 25 मई, 2020 से संचालित करने की सिफारिश की गई थी।" बयान में आगे कहा गया है, "एयरलाइंस आरसीएस मार्गों को फिर से एक उचित ढंग से फिर से शुरू कर रहे हैं।"

एशिया का बेस्ट हवाई अड्डा बना अमौसी का एयरपोर्ट, विश्वस्तरीय अवार्ड से होगा सम्मानित

मंत्रालय के अनुसार, कुछ UDAN मार्गों पर परिचालन न होने के कुछ कारण हैं:

  • भूमि की अनुपलब्धता, हवाई अड्डे के संचालकों द्वारा नियमों के अनुपालन से संबंधित देरी, हवाई अड्डों के लिए सड़क संपर्क की कमी और नागरिक हवाई अड्डों पर बुनियादी सुविधाओं के अभाव के कारण।
  • एयरलाइंस द्वारा अनुसूचित कम्यूटर ऑपरेटर्स परमिट प्राप्त करने में शामिल प्रक्रिया को पूरा न करना।
  • COVID-19 के कारण हवाई अड्डों के नागरिक कार्य शुरू होने में देरी हुई। इसके अलावा, घरेलू परिचालन के निलंबन के कारण नए मार्गों की शुरुआत पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा।
  • क्षेत्रीय कनेक्टिविटी योजना के तहत 100 से अधिक हवाईअड्डों / हेलीपोर्ट्स / वाटर एयरोड्रमों को 2024 तक विकसित किया जाना है, जिनके लिए विभिन्न दौर की बोली प्रक्रिया की जा चुकी है।
  • विशेष रूप से 3 दिसंबर 2019 को UDAN के लिए चौथे दौर की बोली शुरू हो गई थी।

गौरतलब है कि स्पाइसजेट ने सोमवार को दरभंगा को दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरु से जोड़ने वाली दैनिक उड़ानें शुरू करने की घोषणा की थी। कंपनी 8 नवंबर 2020 से दिल्ली-दरभंगा, बेंगलुरु-दरभंगा और मुंबई-दरभंगा के लिए रोजाना सीधी उड़ानें मुहैया कराएगी।

UDAN II के तहत स्पाइसजेट को दिए गए दरभंगा, विमानन मंत्रालय की क्षेत्रीय कनेक्टिविटी योजना के तहत एयरलाइन का 13वां गंतव्य और एयरलाइन के घरेलू नेटवर्क पर 55वां गंतव्य है। स्पाइसजेट इन सभी मार्गों पर अपने बोइंग 737-800 को तैनात करेगी। शुरुआती ऑफर के रूप में सभी मार्गों पर स्पाइसजेट 3,799 रुपये से किराये की शुरुआत कर रही है।

अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned