UNSC  :  निर्विरोध अस्थायी सदस्य बनने पर पीएम मोदी ने कहा - वैश्विक शांति और सुरक्षा के लिए करेंगे काम

  • भारत को इस चुनाव में 192 में से 184 वोट मिले।
  • भारत वैश्विक शांति, सुरक्षा, लचीलापन और एकता के लिए काम करेगा।
  • पाक विदेश मंत्री ने कहा - सुरक्षा परिषद में भारत का चुना जाना हमारे लिए चिंता की बात।

नई दिल्ली। गुरुवार को भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ( UNSC ) का निर्विरोध अस्थायी सदस्य चुन लिया गया। भारत यूएनएससी का 8वीं अस्थायी सदस्य चुना गया है। लेकिन पाकिस्तान ( Pakistan ) का यह अच्छा नहीं लगा और वह एक बार फिर बौखला गया है। दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi ) ने भारत के चुने जाने पर खुशी जताई है। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि भारत वैश्विक शांति और सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए हमेशा के तरह काम करता रहेगा।

वैश्विक समुदाय का दिल से आभारी

पीएम मोदी ने कहा कि यूएनएससी ( UNSC ) में भारत की सदस्यता के लिए वैश्विक समुदाय ( Global Community ) द्वारा दिखाए गए भारी समर्थन के लिए दिल से आभारी हूं। भारत वैश्विक शांति, सुरक्षा, लचीलापन और एकता को बढ़ावा देने के लिए सभी सदस्य देशों के साथ काम करेगा।

बहुपक्षीय प्रणाली पर देंगे जोर

संयुक्त राष्ट्र ( United Nations ) में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति ( TS Krishnamurti ) ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के चुनाव में भारत को भारी समर्थन हासिल हुआ है और देश बहुपक्षीय प्रणाली को बेहतर बनाने के लिए नेतृत्व देता रहेगा और नया मार्ग प्रशस्त करेगा।

सदस्य देशों के भारी समर्थन से अभिभूत हूं

तिरुमूति ने एक वीडियो संदेश जारी कर बताया है कि मुझे बहुत खुशी है कि भारत 2021-22 के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के अस्थायी सदस्य के तौर पर चुना गया है। हमें भारी समर्थन हासिल हुआ और संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों ने भारत पर जो भरोसा जताया है उससे मैं अभीभूत हूं।

भारत की इस कामयाबी से पाकिस्तान बौखलाया

भारत की इस कामयाबी पर चिढ़े पाकिस्तान ने कहा कि सुरक्षा परिषद में नई दिल्ली ( New Delhi ) की अस्थायी सदस्यता हमारे लिए चिंता की बात है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ( Pakistan Foreign Minister Shah Mehmood Qureshi ) ने कहा कि भारत हमेशा इस मंच से उठाए जाने वाले प्रस्तावों को खारिज करता रहा है। खासकर कश्मीर जैसे मुद्दों को। कश्मीरियों को उनके हक नहीं दिए गए और उनका दमन जारी है। भारत के अस्थायी सदस्य बनने से कोई आसमान नहीं फटेगा। पाकिस्तान भी 7 बार अस्थायी सदस्य रह चुका है।

आपको बता दें कि भारत को यूएनएससी के चुनावों में निर्विरोध अस्थायी सदस्य ( India elected unopposed ) चुन लिया गया है। अब भारत 2021-22 के लिए इस सर्वोच्च संस्था का अस्थायी सदस्य बन गया है। भारत को इस चुनाव में 192 में से 184 वोट मिले।

pm modi
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned