Uttarakhand Glacier Burst: वैज्ञानिकों ने 8 महीने पहले ही भांप लिया था खतरा, दी थी ग्लेशियर टूटने की चेतावनी

  • Uttarakhand Glacier Burst : देहरादून के एक इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों ने ग्लेशियर टूटने को लेकर किया था आगाह
  • पूरे हिमालय क्षेत्र में ग्लेशियर रोक रहें नदी का प्रवाह

By: Soma Roy

Published: 07 Feb 2021, 10:52 PM IST

नई दिल्ली। उत्तराखंड के चमोली जिले में ग्लेशियर का टुकड़ा टूटने से भयंकर तबाही मची है। कई लोगों के पानी में बह जाने के अलावा और भी कई नुकसान हुए हैं। पानी के इस सैलाब ने दूसरे इलाकों के लिए भी खतरे की घंटी बजा दी है। मगर क्या आपको पता है इस भयंकर त्रासदी का खतरा वैज्ञानिकों ने 8 महीने पहले ही भांप लिया था। देहरादून के वाडिया इंस्टीट्यूट ऑफ जियोलॉजी की ओर से इस सिलसिले में चेतावनी भी जारी की गई थी।

इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों ने कहा था कि जम्मू-कश्मीर काराकोरम रेंज समेत पूरे हिमालय क्षेत्र में ग्लेशियरों द्वारा नदी का प्रवाह रोकने पर कई झीलें बन गई है। यह बेहद खतरनाक स्थिति है। इससे कभी भी तबाही का मंजर सामने आ सकता है। उन्होंने श्योक नदी का भी उदाहरण दिया था। जिसमें बताया गया कि नदी के प्रवाह को एक ग्लेशियर ने रोक दिया है। इससे वहां एक बड़ी झील बन गई है। इसमें जरूरत से ज्यादा पानी जमा होने पर इसके फटने की आशंका है। इस बारे में देहरादून के भू-विज्ञान संस्थान के शोधकर्ताओं ने भी एक बड़ी चेतावनी जारी की थी। उनके मुताबिक ग्लेशियरों के कारण बनने वाली झीलें भविष्य में बड़े खतरे का कारण हो सकती हैं। क्योंकि साल 2013 में केदारनाथ त्रासदी में भयंकर मंजर देखने को मिला था।

145 लेक आउटबर्स्ट घटनाओं का चला पता
स्टडी में वैज्ञानिकों ने श्योक नदी के आसपास के हिमालयी क्षेत्र में 145 लेक आउटबर्स्ट की घटनाओं का पता लगाया। रिसर्च में पाया गया कि इनमें 30 बड़े हादसे थे। शोधकर्ताओं का कहना है कि हिमालय क्षेत्र के पास की सभी घाटियों में स्थित ग्लेशियर तेजी से पिघल रहे हैं। वहीं पाक अधिकृत कश्मीर वाले काराकोरम क्षेत्र में ग्लेशियर में बर्फ की मात्रा बढ़ रही है। इसलिए ये ग्लेशियर जब बड़े होते हैं तो ये नदियों के प्रवाह को रोकते हैं। इससे ग्लेशियर के ऊपरी हिस्से की बर्फ तेजी से निचले हिस्से की ओर आती है। तभी इनके टूटने का खतरा बढ़ता है। इससे निचले इलाके में रहने वालों को भयंकर नुकसान का सामना करना पड़ता है।

Soma Roy
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned