scriptVaccination of two different vaccines is possible, but in-depth research is needed: NITI Aayog | दो अलग-अलग वैक्सीन का टीका लगाना संभव, पर गहन शोध की जरूरत: नीति आयोग | Patrika News

दो अलग-अलग वैक्सीन का टीका लगाना संभव, पर गहन शोध की जरूरत: नीति आयोग

Covid-19 Vaccine: नीति आयोग ने कहा है कि दो अलग-अलग वैक्सीन की खुराक दो बार लगवाना "सैद्धांतिक रूप से संभव है", लेकिन इस मामले में अधिक गहन शोध की आवश्यकता है।

नई दिल्ली

Updated: May 22, 2021 10:10:38 pm

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच देश में तेजी के साथ कोरोना टीकाकरण ( Covid Vaccination ) अभियान को आगे बढ़ाने को लेकर कोशिशें की जा रही है। हालांकि, मांग के अनुरुप वैक्सीन का उत्पादन नहीं होने की वजह से कई राज्यों तो पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन की खुराक नहीं मिल पा रही है, लिहाजा टीकाकरण अभियान को कई जगहों पर कुछ समय के लिए रोक दिया गया है।

covid_vaccine.jpeg
Vaccination of two different vaccines is possible, but in-depth research is needed: NITI Aayog

इन सबके बीच कोरोना टीका लगाने को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है। नीति आयोग ने शनिवार को कहा है कि दो अलग-अलग वैक्सीन की खुराक दो बार लगवाना "सैद्धांतिक रूप से संभव है", लेकिन इस मामले में अधिक गहन शोध की आवश्यकता है। नीति आयोग के स्वास्थ्य सदस्य डॉ. वीके पॉल ने कहा कि दो अलग-अलग कंपनी के वैक्सीन की खुराक दो बार में ली जा सकती है, लेकिन इसपर अभी भी गहन शोध की जरूरत है।

यह भी पढ़ें
-

DRDO की एंटी-कोविड ड्रग 2-DG जून से देश के सभी अस्पतालों में होगी उपलब्ध

संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए डॉ. पॉल ने कहा, "आपने मुझसे पूछा कि क्या कोई व्यक्ति पहली खुराक में प्राप्त वैक्सीन से अलग टीका लगा सकता है। वैज्ञानिक और सैद्धांतिक रूप से संभव है। लेकिन इसकी सिफारिश करना अभी एक उभरती हुई स्थिति है। अभी कोई पुख्ता वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। अब आगे केवल समय ही बताएगा।"

एस्ट्राजेनेका-फाइजर की मिश्रित वैक्सीन कारगर
मालूम हो कि स्पेनिश विश्वविद्यालय ने दो अलग-अलग वैक्सीन को मिलाकर कोरोना के खिलाफ उसकी प्रभाव को लेकर शोध किया। विश्वविद्यालय द्वारा किए गए एक अध्ययन के अनुसार, एस्ट्राजेनेका और फाइजर वैक्सीन का संयोजन बीमारी के प्रसार और रोकथाम को नियंत्रित करने में पूरी तरह से सुरक्षित और प्रभावी था।

यह भी पढ़ें
-

Covid-19 Vaccination: केंद्र सरकार ने कोरोना वैक्सीनेशन का बदला नियम, अब ठीक होने के 3 महीने बाद लगेगा टीका

स्पेन में कार्लोस III हेल्थ इंस्टीट्यूट द्वारा किए गए अध्ययन में पाया गया कि एस्ट्राजेनेका की पहली खुराक के बाद फाइजर की दूसरी खुराक बिल्कुल सुरक्षित और प्रभावी थी। विश्वविद्यालय ने एक नैदानिक परीक्षण के परिणाम के साथ अपने निष्कर्षों का समर्थन किया है जिसमें 60 वर्ष से कम आयु के 673 प्रतिभागियों ने भाग लिया था।

आपको बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, 16 जनवरी को टीकाकरण अभियान शुरू होने के बाद से अब तक COVID-19 टीकों की 19,33,72,819 खुराक दी जा चुकी हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

30 साल बाद फ्रांस को फिर से मिली महिला पीएम, राष्ट्रपति मैक्रों ने श्रम मंत्री एलिजाबेथ बोर्न को नया पीएम किया नियुक्तदिल्ली में जारी आग का तांडव! मुंडका के बाद नरेला की चप्पल फैक्ट्री में लगी भीषण आग, मौके पर पहुंची 9 दमकल गाडि़यांबॉर्डर पर चीन की नई चाल, अरुणाचल सीमा पर तेजी से बुनियादी ढांचा बढ़ा रहा चीनSri Lanka में अब तक का सबसे बड़ा संकट, केवल एक दिन का बचा है पेट्रोलIAS अधिकारी ने भारत की थॉमस कप जीत पर मच्छर रोधी रैकेट की शेयर की तस्वीर, क्रिकेटर ने लगाई फटकार - 'ये तो है सरासर अपमान'ताजमहल के बंद 22 कमरों का खुल गया सीक्रेट, ASI ने फोटो जारी करते हुए बताई गंभीर बातेंकर्नाटक: हथियारों के साथ बजरंग दल कार्यकर्ताओं के ट्रेनिंग कैम्प की फोटोज वायरल, कांग्रेस ने उठाए सवालPM Modi Nepal Visit : नेपाल के बिना हमारे राम भी अधूरे हैं, नेपाल दौरे पर बोले पीएम मोदी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.