वीर सावरकर के पोते रणजीत का बड़ा बयान- इंदिरा गांधी करती थीं उनका सम्मान

  • सावरकर से ज्यादा धर्मनिरपेक्ष शख्स मिलना मुश्किल
  • ओवैसी को सावरकर से सीख लेने की जरूरत
  • सावरकर की नीतियों का अनुसरण करती थीं इंदिरा

नई दिल्‍ली। भारतीय जनता पार्टी की ओर से विनायक दामोदर सावरकर को भारत रत्न दिए जाने की घोषणा के बाद से महाराष्ट्र में सियासी संग्राम जारी है। यह संग्राम थमने का नाम नहीं ले रहा है। एआईएमआईएम से लेकर कांग्रेस तक ने इस बात का विरोध किया है। इस बीच सावरकर के पोते रणजीत सावरकर ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी भी सावरकर की अनुयायी थीं और उनका सम्‍मान करती थीं।

रणजीत सावरकर ने कहा कि इंदिरा गांधी ने वीर सावरकर को सम्मानित किया था। मुझे लगता है कि इंदिरा गांधी सावरकर की अनुयायी थीं। इंदिरा गांधी ने पाकिस्तान को घुटनों पर ला दिया था। सेना और विदेशी संबंधों को मजबूत किया और उन्होंने परमाणु परीक्षण भी किया। यह नीति नेह रू और गांधी के फिलॉसफी के खिलाफ है। जबकि सावरकर देशहित में इन नीतियों के समर्थक थे।

बाहुबली मुख्तार अंसारी के दिल्‍ली आवास पर छापा, विदेशी हथियारों का जखीरा बरामद

क्या है मामला?
दरअसल, महाराष्ट्र में बीजेपी ने अपने संकल्प पत्र में वीर सावरकर को भारत रत्न दिलाने का वादा किया है। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि उनकी सरकार केंद्र सरकार से ये मांग करेगी कि वीर सावरकर को भारत रत्न दिया जाए। बता दें कि महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिए 21 अक्टूबर को मतदान किया जाएगा। इसके बाद 24 अक्टूबर को मतगणना की जाएगी।

Dhirendra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned