WHATSAPP PRIVACY POLICY : सबसे बड़े सर्वे की रिपोर्ट सुन वाट्सएप के अधिकारियों की नींद उड़ी

  • 86 फीसदी भारतीय वाट्सएप छोड़ने के लिए तैयार
  • 35 फीसदी तक घट गया वाट्सएप का डाउनलोड
  • 18 फीसदी ने कहा कि हम वाट्सएप जारी रखेंगे
  • सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लोकल सर्किल सर्वे रिपोर्ट

नई दिल्ली. वाट्सएप को प्राइवेसी पॉलिसी में बदलाव को लेकर यूजर्स का मोहभंग हो चुका है। उसने कभी नहीं सोचा होगा जिस सोशल मीडिया के भरोसे को लेकर वह तमाम दावे करता था, वह भरोसा उसके काम नहीं आएगा। यही वजह है कि कंपनी के लगातार सफाई देने के बावजूद यूजर्स लगातार वाट्सएप छोड़कर वैकल्पिक एप टेलीग्राम व सिग्रल को डाउनलोड कर रहे हैं। 15 मई तक स्थगित कर दिया है, इसके बावजूद करीब 86 फीसदी भारतीय यूजर्स व्हॉट्सऐप से दूरी बनाना चाहते हैं। यह खुलासा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लोकल सर्किल के सर्वे की रिपोर्ट में हुआ है। गौरतलब है कि व्हाट्सऐप के भारत में इस पॉलिसी से पहले 40 करोड़ से अधिक यूजर्स थे।


व्हाट्सऐप : 35 फीसदी घटा डाउनलोड
व्हाट्सऐप का नई पॉलिसी (WHATSAPP NEW POLICY) से पहले एक से पांच जनवरी के बीच 20 लाख डाउनलोड था। नई पॉलिसी के बाद 35 फीसदी डाउनलोड घटकर 13 लाख पहुंच गया।

100 गुना बढ़ा 'सिग्रल' (SIGNAL)
व्हाट्सऐप का विकल्प सिग्नल व टेलीग्राम को यूजर्स खूब पसंद कर रहे हैं। 1 से 5 जनवरी के बीच सिग्नल का डाउनलोड 24 हजार था, जो 6 से 10 जनवरी के बीच बढ़कर 23 लाख हो गया।
टेलीग्राम : 50 करोड़ के पार (TELEGRAM)
इसी अवधि में टेलीग्राम का डाउनलोड 13 लाख से बढ़कर 15 लाख हो गया। दुनियाभर में उसके डाउनलोड्स की संख्या 50 करोड़ के आंकड़े को पार कर गई है।
यूजर्स ही नहीं कंपनियों ने भी बनाई दूरी
महिंद्रा कंपनी व टाटाग्रुप के चेयरमैन, पेटीएम, फोनपे जैसी कंपनियों ने भी व्हाट्सएप को अलविदा कह दिया है। कंपनी के काम भी धीरे-धीरे व्हाट्सएप से शिफ्ट हो रहे हैं।
सर्वे रिपोर्ट के आंकड़े
- 18 फीसदी यूजर्स ही व्हाट्सऐप प्रयोग करना चाहते हैं।
- 36 फीसदी ने अनइंस्टॉल तो नहीं पर प्रयोग कम किया।
- 15 फीसदी का कहना-जल्द इस्तेमाल बंद करने जा रहे।
- 24 फीसदी दूसरे प्लेटफॉर्म पर स्वीच करना चाहते हैं।

91 फीसदी को पसंद नहीं पेमेंट सर्विस
91 फीसदी यूजर्स व्हाट्सऐप पेमेंट (WHTSAPP PAYMENT) का इस्तेमाल नहीं करना चाहते हैं। क्योंकि व्हाट्सऐप पेमेंट व ट्रांजेक्शन की जानकारी फेसबुक (FACEBOOK) से शेयर करता है।

244 जिलों में सर्वे
यह सर्वे देश के 244 जिलों में किया गया है। इसमें 24 हजार से ज्यादा लोगों से प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर प्रतिक्रिया ली गई है।

Show More
Ramesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned