पूरी दिल्ली हो वीआईपी इलाका : अरविंद केजरीवाल

उन्होंने कहा कि पूरी दिल्ली एक वीआईपी इलाका होनी चाहिए, जैसे एनडीएमसी इलाका है

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि वीवीआईपी लोगों की रिहायश वाला नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) क्षेत्र ही नहीं, बल्कि पूरी दिल्ली वीआईपी इलाका होनी चाहिए। केजरीवाल ने यह विचार दक्षिणी दिल्ली के शांतिपथ जंक्शन में एनडीएमसी द्वारा स्थापित देश का विशाल राष्ट्रीय ध्वज जनता को समर्पित किए जाने के बाद रखा।

आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक केजरीवाल ने सभा को संबोधित करते हुए सुझाव दिया कि दिल्ली के अन्य इलाकों में भी ऎसे झंडे लगाए जाने चाहिए। स्थापित राष्ट्रीय ध्वज 30 गुणा 20 फीट का है और पॉलिएस्टर सिल्क से बना है। इसे 16 लाख रूपये की लागत से बनाए गए 105 फुट के एक स्तंभ के शीर्ष पर स्थापित किया गया है। यह रात में जगमगाएगा।

केजरीवाल ने एनडीएमसी जोन को स्मार्ट सिटी में तब्दील किए जाने की दिशा में एनडीएमसी के प्रयासों का जिक्र करते हुए कहा कि सिर्फ स्मार्ट नागरिक ही एक स्मार्ट शहर बना सकते हैं, इसलिए हमें पहले स्मार्ट नागरिक तैयार करने चाहिए। उन्होंने कहा कि पूरी दिल्ली एक वीआईपी इलाका होनी चाहिए, जैसे एनडीएमसी इलाका है। उन्होंने कहा कि स्कूलों, शिक्षा, स्वास्थ्य सुविधाओं और जलापूर्ति पर अधिक ध्यान दिया जाना चाहिए।
जमील खान
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned