लाठी से बचने के लिए पत्नी ने अपनाया ये तरीका, पीठ पर पोस्टर छिपकाकर कहा- मेरा पति दूध-सब्जी लेने जा रहा है, कृपया लट्ठ न मारें

Highlights
- Coronavirus in India की बात करें तो 700 से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित है
-16 लोगों की मरने की पुष्टि हुई है
- PM Modi ने पूरे देश को 14 अप्रैल तक लॉकडाउन करने का आदेश दे दिया

नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) का खौफ पूरी दुनिया में देखा जा रहा है। भारत (Coronavirus in India) की बात करें तो 700 से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित है,वहीं 16 लोगों की मरने की पुष्टि हुई है। इसको देखते हुए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश को 14 अप्रैल तक लॉकडाउन करने का आदेश दे दिया है। कोरोना फैलने से बचाने के लिए पुलिस लॉकडाउन का सख्ती से अमल करा रही है। इस दौरान पुलिस काफी सक्रिय रही। शहर से लेकर गांवों तक पुलिस ने लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवाया। बेवजह घर से बाहर सड़कों पर निकलने वालों पर पुलिस ने लाठियां चटकाई रही है। पुलिस की सख्ती के कारण पूरे जिले में लॉकडाउन का व्यापक असर तो दिखा ही साथ में लोगों के अंदर बाहर निकलने का खौफ भी दिखा। एेसे ही सोशल मीडिया में एक फोटो वायरस हो रही है जिसमें कैथल के एक स्थानीय निवासी ने इस पर एक स्लोगन के माध्यम से अपनी बात रखी है। उसके पीठ पर कागज का एक पोस्टर लगा है। पोस्टर में लिखा गया है कि मेरा पति दूध और सब्जी लेने जा रहा है। आवारागर्दी करने नहीं। कृपया लट्ठ न मारें। यह पोस्ट एक पत्नी ने लिखा है।

सोशल डिस्टेंस (sSocial Distancing) का लोग रख रहे ख्याल

गौरतलब है कि राशन, दवा, सब्जी व डेयरी को छोड़कर सभी दुकानें बंद है। सड़क किनारे सब्जी वाले दुकानदारों को भी पुलिस ने ग्राहकों को इकट्ठा नहीं होने की सख्त हिदायत दिया। शहर में चौक चौराहों पर सड़क से सट कर लगाई कई सब्जी की दुकानों को पुलिस ने और पीछे हटवा जा रहा है। दुकानदानों को अपनी अपनी दुकान के सामने कम से कम एक-एक मीटर की दूरी पर घेरा बनाने को कहा गया। ताकि इस घेरे में खड़े होकर लोग एक-एक कर सामान खरीद सकें। दुकानों पर भी सोशल डिस्टेंस बनी रहे। वहीं सरकारकी तरफ से गरीब लोगों को 20-20 किलो राशन भी बांटा जा रहा है।

लगातार हो रहा केस दर्ज

क्वारेंटाइन के दौरान बाहर घूमने व लॉकडाउन ब्रेक करने वाले पर लगातार केस दर्ज कर रही है। लॉक डाउन पीरियड में बाहर घूमने वाले व घरों के बाहर बैठे लोगों पर अब प्रशासन ने वीडियो व फोटो के आधार पर भी कार्रवाई की है।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned