नशे की हालत में देर रात मेट्रो स्‍टेशन पहुंची महिला तो सीआईएसएफ ने पति को बुलाया

नशे की हालत में देर रात मेट्रो स्‍टेशन पहुंची महिला तो सीआईएसएफ ने पति को बुलाया

देर रात नशे की हालत में एक महिला मेट्रो परिसर में यात्रा के उद्देश्‍य से घुसने की कोशिश कर रही थीं। सीआईएसएफ ने उसे रोक दिया।

नई दिल्ली : सोमवार की देर रात समयपुर बादली मेट्रो स्टेशन पर कुछ ऐसा हुआ कि वहां तैनात सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्यॉरिटी फोर्स (CISF) के जवानों को समझ में नहीं आ रहा था कि वे क्‍या करें। मामला यूं है कि देर रात नशे की हालत में एक 25 साल की महिला मेट्रो परिसर में यात्रा के उद्देश्‍य से घुसने की कोशिश कर रही थीं, जबकि सीआईएसएफ को यह आदेश है कि वह नशे की हालत में किसी भी यात्री को परिसर में न आने दे। इसलिए वह उस महिला को मेट्रो में सफर की इजाजत भी नहीं दे सकते थे और सुरक्षा कारणों से उसे वापस लौटा भी नहीं सकते थे। इस स्थिति में उन्‍होंने जो निर्णय लिया, वह सराहनीय है। उन्‍होंने बीच का रास्‍ता निकालते हुए अपनी गाड़ी से उस महिला को उसके पति के पास सुरक्षित पहुंचाया।

रोकने पर सुरक्षाकर्मियों से करने लगी बहस
बात सोमवार की देर रात करीब 10:45 की है। येलो लाइन के टर्मिनेटिंग स्टेशन समयपुर बादली मेट्रो पर नशे की हालत में 25 साल की एक अकेली महिला मेट्रो से सफर के इरादे से पहुंची। नशे की हालत में जब सुरक्षाकर्मियों ने उसे रोका तो वह चेक पोस्ट पर तैनात सुरक्षाकर्मी से बहस करने लगी। महिला सुरक्षाकर्मियों को बुलाकर पहले किसी तरह उसे शांत करवाया गया। इसके बाद मेट्रो पुलिस व दिल्ली पुलिस कंट्रोल रूम को इस घटना की जानकारी दी गई। दिल्ली पुलिस अधिकारियों ने कहा कि यह मामला दिल्ली मेट्रो रेल पुलिस (DMRP) के तहत आता है। इसलिए वह देखें कि उन्‍हेंक् क्‍या करना है। इसके बाद मेट्रो पुलिस ने महिला के पति से संपर्क कर स्थिति की जानकारी दी और उनसे धौलाकुआं मेट्रो स्टेशन से उस महिला को रिसीव करने का अनुरोध किया गया।

सीआर्इएसएफ अपनी गाड़ी में बैठाकर ले गई
इसके बाद उक्‍त महिला को सीआईएसएफ महिला सुरक्षाकर्मी की देखरेख में उक्‍त युवती को अपने साथ अपनी गाड़ी में बैठा कर धौलाकुआं मेट्रो स्टेशन ले गई, जहां इंतजार कर रहे उनके पति को उसे सौंप दिया।

Ad Block is Banned