scriptWorld Breastfeeding Week what is breast milk bank and how to access | विश्व स्तनपान सप्ताह 2021 : क्या है ब्रेस्ट मिल्क बैंक और कैसे इसकी मदद लें | Patrika News

विश्व स्तनपान सप्ताह 2021 : क्या है ब्रेस्ट मिल्क बैंक और कैसे इसकी मदद लें

दुनिया भर में अगस्त माह का पहला सप्ताह विश्व स्तनपान सप्ताह के रूप में मनाया जाता है। विश्व स्तनपान सप्ताह का उद्देश्य स्तनपान के लिए जागरुकता बढ़ाना है।

नई दिल्ली

Published: August 02, 2021 11:30:58 am

नई दिल्ली। दुनिया भर में अगस्त माह का पहला सप्ताह विश्व स्तनपान सप्ताह (World breastfeeding week) के रूप में मनाया जाता है। विश्व स्तनपान सप्ताह का उद्देश्य स्तनपान के लिए जागरुकता बढ़ाना है। मां का दूध बच्चे के मानसिक और शारीरिक विकास के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इसमें वो सभी पोषक तत्व होते हैं जो बच्चों को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी होते है। यह शिशु को भविष्य में बीमारी से बचाने के साथ-साथ माताओं के स्वास्थ्य के लिए भी जरूरी है।

 breast milk bank
breast milk bank


वर्ल्ड ब्रेस्टफीडिंग वीक थीम
वर्ल्ड ब्रेस्टफीडिंग वीक हर साल मनाया जाता है और हर साल इसकी एक नई थीम रखी जाती है। इस वर्ष ‘स्तनपान की सुरक्षा: एक सहभागितापूर्ण जिम्मेदारी’ ( Protect Breastfeeding: A Shared Responsibility) थीम रखी गई है। जिसके तहत विभिन्न कार्यक्रमों के जरिए माताओं और अभिभावकों को जागरुक किया जा रहा है। बीते साल 2020 के लिए इसकी थीम ‘सपोर्ट ब्रेस्ट फीडिंग फॉर अ हेल्थिअर प्लेनेट’ (Support breast feeding for a healthier planet) रखी गई थी।

यह भी पढ़ेंः कोरोना वैक्सीन लगवाने वालों को कैश प्राइज से लेकर गाय जीतने का मौका, कई देशों में दिए जा रहे आकर्षक ऑफर

क्या होता है ब्रेस्ट मिल्क बैंक
मां का दूध उपलब्ध कराने वाले ब्रेस्ट मिल्क बैंक, ब्लड बैंक की तरह काम कर करते है। इन दूध बैंकों में महिलाएं अपना दूध वंचित बच्चों के भरण पोषण के लिए दान कर सकती हैं। ब्रेस्ट मिल्क बैंक एक नॉन-प्रॉफिट संस्था है। यहां पर नवजात शिशुओं के लिए मां का सुरक्षित दूध स्टोर किया जाता है। यह दूध उन नवजात शिशुओं के लिए उपलब्ध करवाया जाता है, जो किसी कारणवश अपने बच्चे को स्तनपान नहीं करा सकती है। इसमें दो प्रकार की महिलाएं अपना दूध दान कर सकती है। पहली अपनी इच्छा से और दूसरी वे माताएं जो अपने बच्चों को दूध नहीं पिला सकतीं।

मदर मिल्क बैंक की कैसे ले मदद
मां के दूध का बैंक बनाने का उद्देश्य ऐसे बच्चों को मां का दूध उपलब्ध करवाना है जिनकी मां उन्हें किसी शारीरिक अक्षमता के चलते स्तनपान नहीं करवा पाती। कई बार प्रसव के बाद महिलाओं को दूध नहीं आता या कम आता है। इसके अलावा जन्म के समय महिला की मृत्यु हो जाती है। ऐसी स्थिति में दूध बैंक नवजात शिशुओं के लिए बहुत उपयोगी हैं। वैज्ञानिक प्रक्रिया से इस दूध को सामान्य से अधिक अवधि तक के लिए सुरक्षित रखा जाता है।

यह भी पढ़ेंः Corona Vaccination: एक ही इंसान को लगेंगी दो अलग-अलग वैक्‍सीन डोज, सरकार ने दी ट्रायल की मंजूरी

स्तनपान से महिलाओं होते है ये फायदे
एक्सपर्ट की मानें तो मां को अपने शिशु को 6 महीने तक सिर्फ अपना दूध ही पिलाना चाहिए। ब्रेस्टफीडिंग सिर्फ नवजात शिशु के लिए ही नहीं बल्कि दूध पिलाने वाली मां के लिए भी कई तरह से फायदेमंद है। एक रिपोर्ट के अनुसार, स्तनपान कराने वाली महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर, ओवेरियन कैंसर, और टाईप 2 डायबिटीज जैसे रोग होने का खतरा कम होता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

IND vs ZIM: शिखर धवन और शुभमन गिल की शानदार बल्लेबाजी, भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हरायाMaharashtra Suspected Boat: रायगढ़ में मिली संदिग्ध नाव और 3 AK-47 किसकी? देवेंद्र फडणवीस ने किया बड़ा खुलासाBihar News: राजधानी पटना में फिर गोलीबारी, लूटपाट का विरोध करने पर फौजी की गोली मारकर हत्यादिल्ली हाईकोर्ट ने फ्लाइट में कृपाण की अनुमति देने पर केंद्र और DGCA को जारी किया नोटिसSSC Scam case: पार्थ चटर्जी, अर्पिता मुखर्जी 14 दिन की न्यायिक हिरासत पर भेजे गए, 31 अगस्त को अगली पेशीRohingya Row: अनुराग ठाकुर का AAP पर आरोप, राष्ट्र सुरक्षा से समझौता कर रही दिल्ली सरकारपश्चिम बंगाल में STF को मिली बड़ी सफलता, अल-कायदा से जुड़े दो आतंकवादियों को किया गिरफ्तारBJP में शामिल होंगे JDU के पूर्व अध्यक्ष RCP सिंह, नीतीश के बारे में कहा- 7 जन्म में नहीं बन सकेंगे प्रधानमंत्री
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.