दुनियाभर में Corona से 1.6 अरब Students प्रभावित, अगले साल 2.38 करोड़ छोड़ सकते हैं पढ़ाई: UN Chief Guterres

HIGHLIGHTS

  • संयुक्त राष्ट्र ( United Nations ) ने एक बयान में कहा है कि कोरोना ( Coronavirus ) की वजह से दुनियाभर में लॉकडाउन ( Lockdown ) के कारण बच्चों की पढ़ाई बुरी तरह से प्रभावित हुआ है और इसके गंभीर परिणाम सामने आ सकते हैं।
  • संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ( UN Chief Antonio Guterres ) ने कहा है कि पूरी दुनिया में कोरोना संक्रमण के कारण 1.6 अरब विद्यार्थी प्रभावित ( Students Affected ) हुए हैं।

संयुक्त राष्ट्र। कोरोना महामारी ( Coronavirus Epidemic ) से पूरी दुनिया जूझ रही है और इसके प्रभाव के कारण वैश्विक अर्थव्यवस्था ( Global Economy ) चरमरा गई है। कोरोना के कारण दुनियाभर में स्कूल-कॉलेज और अन्य सार्वजनिक स्थल कई महीनों से बंद है। ऐसे में दुनियाभर के बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है।

संयुक्त राष्ट्र ( United Nations ) ने एक बयान में कहा है कि कोरोना की वजह से दुनियाभर में लॉकडाउन ( Lockdown ) के कारण बच्चों की पढ़ाई बुरी तरह से प्रभावित हुआ है और इसके गंभीर परिणाम सामने आ सकते हैं। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ( UN Chief Antonio Guterres ) ने कहा है कि पूरी दुनिया में कोरोना संक्रमण के कारण 1.6 अरब विद्यार्थी प्रभावित हुए हैं। उन्होंने कहा कि करोड़ों विद्यार्थियों की पढ़ाई या तो रुक गई है या फिर बुरी तरह प्रभावित हुई है।

Corona Vaccine की दौड़ में सबसे आगे निकला Russia! अक्टूबर से बड़े पैमाने पर लोगों को टीका लगाने की तैयारी

गुटेरस ने कहा कि विद्यार्थियों के पढ़ाई ( Students Affected By Coronavirus ) प्रभावित होने का परिणाम आगे ये होगा कि इससे आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के 2.38 करोड़ बच्चे अगले साल पढ़ाई छोड़ सकते हैं।

160 से अधिक देशों में स्कूल बंद

गुटेरस ने कोरोना के कारण दुनिया में शिक्षा ( World Education Affected by Covid-19 ) के हालातों में आए बदलाव को लेकर एक दस्तावेज जारी करते हुए कहा कि इतिहास में शिक्षा के क्षेत्र में अब तक का सबसे लंबा अवरोध पैदा हुआ है। उन्होंने कहा कि जुलाई के मध्य में 160 से अधिक देशों में स्कूल बंद कर दिए। इसके कारण अब एक अरब से अधिक छात्र प्रभावित हुए हैं। इतना ही नहीं कोरोना महामारी ( Corona Epidemic ) के कारण दुनियाभर में कम से कम चार करोड़ बच्चे अपने स्कूल के शुरुआती महत्वपूर्ण समय में शिक्षा हासिल नहीं कर सके।

Australia में बिगड़े Covid-19 के हालात, Quarantine के नियम तोड़ने पर भरना होगा 10 लाख तक का जुर्माना

दस्तावेज के मुताबिक, करीब 2.38 करोड़ बच्चे और युवा (प्रारंभिक से उच्च माध्यमिक तक) अगले साल पढ़ाई छोड़ सकते हैं। पूरी दुनिया पहले से ही शिक्षण संकट से जूझ रही है और महामारी से पहले दुनियाभर में करीब 25 करोड़ से अधिक छात्र स्कूल नहीं जा पा रहे थे। गुटेरस ने कहा कि हमें भविष्य के लिहाज से समावेशी, लचीली और गुणवत्तापरक शिक्षा प्रणाली के लिए साहसिक कदम उठाने होंगे।

आपको बता दें कि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस ( Coronavirus In World ) से अब तक 1.82 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 7 लाख के करीब लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना से अब तक सबसे अधिक अमरीका ( America ) प्रभावित हुआ है। अमरीका में करीब 50 लाख लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं, जबकि डेढ़ लाख के करीब लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं भारत ( Coronavirus In India ) में अब तक करीब 19 लाख लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं, वहीं 40 हजार के करीब लोगों की मौत हो चुकी है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned