17 जहरीले सांप एक घर में मिले, रेड मारने गए पुलिस के जवानों के उड़ गए होश

17 जहरीले सांप एक घर में मिले, रेड मारने गए पुलिस के जवानों के उड़ गए होश

कई सांपों ने पुलिस पर हमला कर उन्हें काटने की कोशिश भी की, एक व्यक्ति को किया गिरफ्तार

वर्जिनिया। अपने घर में अचानक घुसते ही अंदर 17 जहरीले सांप को घूमते देख कोई भी बेहोशी की स्थिति में पहुंच सकता है। ऐसा ही कुछ अमरीका के वर्जिनिया में हुआ। इस घर में पुलिस रेड मारने पहुंची थी,जब उसने दरवाजा तोड़कर घुसना चाहा तो सामने देखा की कई जहरीले सांप उसके सामने दिखाई दे रहे थे। कई सांपों ने पुलिस पर हमला कर उन्हें काटने की कोशिश भी की। पुलिसकर्मियों के सामने इतने खतरनाक सांप थें कि उन्हें पकड़ना आसान नहीं थी। बाद में आई वन विभाग की टीम ने इन सांपों को रेस्क्यू कर जंगल में छोड़ दिया है।

भारत ने किशनगंगा परियोजना के निरीक्षण के लिए पाकिस्तान को दी इजाजत

पुलिस ने घर में मारी रेड

वेस्ट वर्जिनिया पुलिस ने अपने फेसबुक पेज पर 17 सांपों को पकड़ने की जानकारी दी है। पुलिस ने बताया कि उन्हें सूचना मिली कि एक व्यक्ति ने अपने घर में सांपों को अवैध तरीके से रखा है। पुलिस को मिली जानकारी के अनुसार टकर काउंटी का रहने वाला एक व्यक्ति नेशनल फॉरेस्ट से सांपों को पकड़कर उन्हें रेन्डॉल्फ काउंटी स्थित घर में रख रहा है। पुलिस ने जानकारी मिलते ही घर पर रेड मारी और वहां पहुंचते ही उनके होश उड़ गए।

कई धारों के तहत व्यक्ति को गिरफ्तार किया

पुलिस ने देखा कि घर के अंदर 17 सांप रखे हुए हैं। काले रंग के इन जहरीले सांपों को रखने के लिए व्यक्ति को कई धाराओं के तहत गिरफ्तार कर लिया गया है। सभी रैटलस्नेक को रेस्कयू कर जंगल में वापस छोड़ दिया गया है। वर्जिनिया में केवल एक ही रैटलस्नेक को रखा जा सकता है और उसकी लंबाई कम से कम 42 इंच होनी चाहिए। इस फेसबुक पोस्ट पर लोगों के तरह-तरह के रिएक्शन्स आ रहे हैं। यूजर्स ने कहा है कि व्यक्ति पर और धाराएं लगनी चाहिए। इस पोस्ट को डेढ़ हजार लोग लाइक कर चुके हैं।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned