एक ऐसा राजा जिसका दो देशों पर चलता है शासन लेकिन खुद करता है मैकेनिक का काम

एक ऐसा राजा जिसका दो देशों पर चलता है शासन लेकिन खुद करता है मैकेनिक का काम

सीफह शासन स्काइप के माध्यम से चलाते हैं क्योंकि अब वो जर्मनी में रहते हैं और मैकेनिक का काम करते हैं।

नई दिल्ली। राजा और प्रजाओं की कहानी तो हम बचपन से सुनते आ रहे हैं लेकिन शानोशौकत से घिरे रहने वाले इन राजाओं की कहानी और उनकी ऐशो आराम की जिंदगी के बारे में जानने को हम आज भी बड़े उत्सुक रहते हैं लेकिन आज हम आपको एक ऐसे राजा के बारे में बताने जा रहे हैं जो इस ऐश्वर्य से काफी दूर है और एक सामान्य मैकेनिक का काम करते हैं। आप भी सोच रहे होंगे कि भला एक राजा कैसे मैकेनिक का काम कर सकता है और अगर वो मैकेनिक है तो वो राजा कैसे हो सकता है? तो चलिए आपको इस मैकेनिक कम राजा के बारे में पूरी बात बताते हैं।

Sifoh Bansah

इनका नाम है सीफह बंसाह जो कि 70 वर्ष के है और वो दो क्षेत्रों के राजा है जिनमें से एक है पूर्वोतर घाना और टोगो बॉर्डर पास का क्षेत्र, इन दो अफ्रीकी देशों पर सीफह अपना शासन चलाते हैं। अब इसमें भी एक खास बात ये है कि वो ये शासन स्काइप के माध्यम से चलाते हैं क्योंकि अब वो जर्मनी में रहते हैं और मैकेनिक का काम करते हैं।

Sifoh Bansah

दरअसल सीफह का जन्म घाना में ही हुआ था लेकिन राजा की नियुक्ति से पहले ही साल 1970 में वो जर्मनी चले गए और वहां एक कार मैकेनिक के तौर पर काम करते हैं। स्काइप के माध्यम से करीब तीन लाख लोगों पर सीफह अपना शासन चलाते हैं और लोगों को दिशा-निर्देश देते हैं।

जब वो इस राज-पाट से मुक्त होते हैं तो एक सामान्य इंसान की तरह मैकेनिक का काम करते हैं। भले ही वो एक कार मैकेनिक है लेकिन टोगो में सफीह को सुपीरियर एंड स्पिरिचुएल चीफ आफ इवे पीपुल के नाम से सम्मान किया गया है। अपने शासन को स्काइप से चलाने और एक आम मैकेनिक का काम करने वाले सीफह वाकई में दुनिया के सबसे अनोखे राजाओं में से एक है।

Sifoh Bansah
Ad Block is Banned