अफगानिस्तान: मस्जिद जाते वक्त पत्रकार को आतंकियों ने गोलियों से भूना, मौत

अफगानिस्तान में मीडियाकर्मियों पर लगातार हमले बढ़ते जा रहे हैं, आतंकियों ने सोमवार को एक और पत्रकार को गोलियों से भूना

नई दिल्ली। अफगानिस्तान (Afghanistan) में सोमवार को एक और पत्रकार की हत्या का मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार पत्रकार को उसी के घर के सामने गोलियों से भून दिया गया। इस घटना के बाद देश में मीडिया, सुरक्षा बलों और नेताओं की सुरक्षा पर कई सवाल खड़े हो गए हैं।

अफगानिस्तान में दो जगहों पर बम विस्फोट से पुलिस प्रमुख सहित 7 की मौत

अफगानिस्तान के गृह मंत्रालय के प्रवक्ता तारीक एरियान ने पत्रकार निकजद की हत्या की पुष्टि की है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा,वह मस्जिद पैदल जा रहे थे तभी कुछ लोगों ने उनकी हत्या कर दी। ‘उनकी हत्या गजनी के पहले सिक्योरिटी जोन में हुई। वहीं कुछ लोग दावा कर रहे हैं कि पत्रकार की हत्या उनके घर के सामने हुई है।

 

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक कुछ ही दिन पहले मलाला (Malala Maiwand) नाम की टीवी पत्रकार और उनके ड्राइवर को आंतकियों ने मौत के घाट उतार दिया था। अक्टूबर महीनें में गजनी प्रांत में भी अल जजीरा के पत्रकार रहमतुल्लाह निकजद की हत्या कर दी गई थी। रिपोर्ट के मुताबिक नवंबर से लेकर अब तक पत्रकार यामा सियावाश, इलयास डाई, मलाला मैवंद और फरदीन अली की हत्या की जा चुकी है।

Afghanistan: एक सप्ताह के अंदर सेना की दूसरी बड़ी कार्रवाई, 74 तालिबानी आतंकी ढेर

हमले के बाद यहां के आम लोग और पत्रकारों ने सरकार से इनकी जांच करने की मांग की है। यहां के पत्रकारों का कहना है कि देश में स्वतंत्र पत्रकारिता करना मुश्किल हो गया है। हम जब बाहर जाते हैं तो डर लगता है लौट के वापस आ पाएंगे या नहीं। बता दें काबुल में रविवार को एक सांसद में भी बम धमाका हुआ था। इस हमले में 10 लोगों की मौत हो गई, जिनमें महिलाएं और बच्चे शामिल थे।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned