गुमनाम लेख ने ट्रंप की नींद उड़ाई, राष्ट्रपति ने लेखक की पहचान उजागर करने को कहा

गुमनाम लेख ने ट्रंप की नींद उड़ाई, राष्ट्रपति ने लेखक की पहचान उजागर करने को कहा

ट्रंप प्रशासन के एक अधिकारी द्वारा लिखे गए लेख से यह भूचाल आ गया है, इस लेख में अमरीकी राष्ट्रपति को अनैतिक शख्स करार दिया है

वॉशिंगटन। अमरीका में अखबार में छपे लेख को लेकर विवाद खड़ा हो गया। इस लेख को लेकर अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप इतने खफा हैं कि उन्होंने ट्वीट कर अखबार से उस शख्स का नाम उजागर करने को कहा है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार गुरुवार को ट्रंप प्रशासन के एक अधिकारी द्वारा लिखे गए लेख से यह भूचाल आ गया है। अधिकारी ने नाम उजागर न करने की शर्त पर लिखे लेख में दावा किया है कि सरकार में काफी विरोध की स्थिति है और अमेरिका को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से बचाने का अधिकारियों की ओर से प्रयास किया जा रहा है। इस लेख में अमेरिकी राष्ट्रपति को अनैतिक शख्स करार दिया गया है और उन्हें लोकतंत्र के स्वास्थ्य को खराब करने वाला बताया गया है।

गुमनाम शख्स की पहचान उजागर हो

'ट्रंप प्रशासन के भीतर विरोध का मैं हिस्सा हूं' शीर्षक से लिए गए इस लेख के बाद बिफरे राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अखबार पर ही निशाना साधते हुए कहा है कि उसे 'गुमनाम' शख्स की पहचान उजागर करना चाहिए,जिसने यह लेख लिखा है। ट्रंप ने इसे देशद्रोह करार देते हुए ट्वीट किया,'देशद्रोह?' यही नहीं एक अगले ट्वीट में उन्होंने लिखा,क्या कथित सीनियर प्रशासनिक अधिकारी सच में अस्तित्व में है या फिर यह फेल हो रहे अखबार की सनसनीखेज खबर है? यदि यह कायर गुमनाम व्यक्ति सच में कहीं है तो अखबार को राष्ट्रीय सुरक्षा के उद्देश्य उसे एक बार सरकार को सौंपना चाहिए।'

 

कई हस्तियों पर शक की सुई

यही नहीं गुरुवार को ट्रंप ने एक बार फिर से ट्वीट किया,'क्या अखबार के खोजी पत्रकार अपने बारे में भी खोज करने जा रहे हैं- गुमनाम पत्र लेखक आखिर कौन है?' इस लेख के सामने आते ही वॉशिंगटन के गलियारों में इस बात को लेकर चर्चा होने लगी कि आखिर इसे लिखा किसने है। कयासों का दौर यहां तक है कि लोग उप राष्ट्रपति माइक पेंस, रक्षा सचिव जेम्स मैटिस और ट्रंप के सहायक केलियाने कॉन्वे को लेकर यह आशंका जता रहे हैं कि शायद उन्होंने ही यह लेख लिखा हो। यहां तक कि ट्रंप के परिवारिक लोगों में पत्नी मेलानिया और बेटी इवांका तक को लेकर इस तरह के कयास लगाए जा रहे हैं।

Ad Block is Banned