ब्रिटेन: 12 से 15 साल के बच्चों का जल्द शुरू होगा वैक्सीनेशन

ब्रिटिश सरकार का कहना है कि देश के अधिकतर हिस्सों में नया अकादमिक वर्ष आरंभ होने के साथ स्कूलों में टीके पहुंचाने की तैयारी है।

लंदन। दुनियाभर में कोरोना वायरस की तीसरी लहर की आशंकाओं को लेकर विशेषज्ञों ने बच्चों के बीच वैक्सीनेशन को जल्द शुरू करने की सलाह दी है। इसी बीच ब्रिटिश सरकार का कहना है कि वह 12-15 वर्ष के बच्चों के टीकाकरण की तैयारी में जुटे हुए हैं। हालांकि देश की टीका परामर्शदाता कमेटी ने इस अभियान को अभी मंजूरी नहीं दी है।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार मंजूरी मिलते ही वह टीकाकरण अभियान आरंभ करने के लिए तैयार है। विभाग का कहना है कि देश के अधिकतर हिस्सों में नया अकादमिक वर्ष आरंभ होने के साथ स्कूलों में टीके पहुंचाने की तैयारी है।

ये भी पढ़ें: एस्टोनिया: राष्ट्रपति चुनाव में केवल एक उम्मीदवार, आजादी के 30 वर्ष बाद ऐसी स्थिति सामने आई

सितंबर में स्कूल खुलने वाले हैं और ब्रिटेन में पहले से ऊंची कोरोना वायरस संक्रमण दर बढ़ने की आशंका है। अभी यहां पर 16 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को टीका लगाया जा रहा है। 12 से 15 वर्ष के उन बच्चों का भी टीकाकरण करा जा रहा है जो पहले से किसी रोग से ग्रस्त हैं या फिर ऐसे वयस्कों के साथ रहते हैं जिनके संक्रमण की चपेट में आने की आशंका अधिक है।

बच्चों के लिए दो टीकों को मिली मंजूरी

ब्रिटेन के औषधि नियामक ने 12-15 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों के लिए फाइजर और मॉडर्ना टीकों को मंजूरी दी है लेकिन नीति निर्धारण करने वाली टीकाकरण संबंधी संयुक्त समिति ने अभी इसे हरी झंडी नहीं दी है। अमरीका, कनाडा और कई यूरोपीय देशों में 12 वर्ष के बच्चों का टीकाकरण चल रहा है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned