Britain: कोरोना महामारी के बीच खोले गए स्कूल, बच्चों को नहीं भेजने पर भरना होगा जुर्माना

HIGHLIGHTS

  • Britain School Reopen: करीब 6 महीने तक बंद रहने के बाद जब स्कूल खुला तो पहले दिन हजारों की संख्या में बच्चे और युवा स्कूल पहुंचे। भारी संख्या में स्कूलों के बाहर कतार में छात्र खड़े दिखाए दिए।
  • भारी संख्या में स्कूल पहुंचने वाले छात्रों को देखते हुए ब्रिटेन के शिक्षा मंत्री गैविन विल्लियमसन ने माता-पिता को एक खुला पत्र भेजा और कहा कि स्कूल ही बच्चों के लिए सबसे बेहतरीन जगह है।

लंदन। कोरोना महामारी के संकट से जूझ रहे यूरोपीय देश ब्रिटेन ने एक बड़ा फैसला लेते हुए मंगलवार से स्कूलों को खोल ( School Reopen In Brirain ) दिया है। करीब 6 महीने तक बंद रहने के बाद जब स्कूल खुला तो पहले दिन हजारों की संख्या में बच्चे और युवा स्कूल पहुंचे। भारी संख्या में स्कूलों के बाहर कतार में छात्र खड़े दिखाए दिए।

भारी संख्या में स्कूल पहुंचने वाले छात्रों को देखते हुए ब्रिटेन के शिक्षा मंत्री गैविन विल्लियमसन ने माता-पिता को एक खुला पत्र भेजा और कहा कि स्कूल ही बच्चों के लिए सबसे बेहतरीन जगह है।

Unlock 4.0: की गाइडलाइंस जारी, Metro, flight, school-college, जानें क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

हालांकि यह भी कहा गया है कि जो भी माता-पिता अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजेंगे उन्हें जुर्माना भरना पड़ेगा। ब्रिटेन में हजारों बच्चे पहले दिन स्कूल गए। स्कूल प्रबंधन ने भी कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए बच्चों के बीच संपर्क को कम करने के लिए उपाय किए हैं। गाइडलाइन के मुताबिक, स्कूल और कॉलेजों में सार्वजनिक क्षेत्रों और गलियारों में चेहरे को ढंकना आवश्यक होगा।

चुनौतियां कम नहीं, पर स्कूल लौटना जरूरी

शिक्षा विभाग ने स्कूल खोलने के संबंध में पहले कहा था कि छात्र ‘नियंत्रण की प्रणाली’ के साथ स्कूल लौटेंगे। इससे छात्रों, शिक्षकों और अन्य कर्मचारियों के बीच सीधे सम्पर्क को कम किया जा सके। साथ ही साथ सामाजिक दूरी बनाई जा सके।

ब्रिटिश के शिक्षा मंत्री गैविन विलियम्सन ( British Education Minister Gavin Williamson ) ने अपने एक बयान में कहा कि देश भर में स्कूल फिर से खुलने लगे हैं। कई छात्रों के लिए आज नए स्कूल वर्ष का पहला दिन होगा, जबकि हजारों बच्चे एक बार फिर स्कूल जाएंगे। उन्होंने आगे कहा ‘पिछले कुछ महीनों की चुनौतियों को मैं कम करके नहीं आंक रहा हूं, लेकिन मुझे पता है कि बच्चों के लिए स्कूल कितना जरूरी है। न सिर्फ बच्चों की पढ़ाई के लिए बल्कि उनके विकास एवं कल्याण के लिए भी बहुत जरूरी है। ब्रिटेन में कोरोना महामारी के मद्देनजर 23 मार्च से देशव्यापी लॉकडाउन लागू होने के कारण सभी स्कूल बंद कर दिए गए थे। ऐसे में पांच महीने से अधिक समय तक सभी बच्चे पूर्णकालिक शिक्षा से बाहर रहे हैं। लिहाजा अब बच्चों के लिए स्कूल खोलना जरूरी है।

Britain: PM Boris Jhonson ने की अगले सप्ताह से सभी School खोलने की तैयारी, अभिभावकों को दी चेतावनी

एक ‘ब्रिटिश मेडिकल जर्नल’ ने अपने अध्ययन में ये बताया है कि बच्चों के लिए कोरोना महामारी का खतरा कम हो गया है। बता दें कि पिछले हफ्ते नेशनल एसोसिएशन ऑफ हेड टीचर्स ने एक सर्वेक्षण के निष्कर्षों को प्रकाशित किया था, जिसमें बताया गया है कि 97 प्रतिशत स्कूलों ने सभी विद्यार्थियों का पूर्णकालिक स्वागत करने की योजना बनाई है। इसके अलावा यह भी कहा गया है कि स्कूलों में तमाम सुरक्षा उपाय किए जाएंगे।

मालूम हो कि ब्रिटेन में कोरोना महामारी से अब तक 3.37 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 41 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। पूरी दुनिया कि बात करें तो 8.5 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 2.5 करोड़ से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं।

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned