कोरोना का खुलासा करने वाले डॉक्टर की मौत, इलाज के वक्त काली पड़ गई थी स्किन

  • Chinese Doctor Death : कोरोना से पीड़ित डॉक्टर हू वीफेन्ग इलाज के दौरान अपनी काली पड़ी त्वचा के चलते सोशल मीडिया पर छाए थे
  • कोरोना वायरस को लेकर चीन की साजिश को बेनकाब करने के लिए वीफेंग ने दिया था बयान

By: Soma Roy

Published: 03 Jun 2020, 04:52 PM IST

नई दिल्ली। चीन के वुहान (Wuhan) शहर से पूरी दुनिया में फैले कोरोनावायरस (Coronavirus) के लिए अमेरिका समेत तमाम देश चीन को ही दोषी मानते हें। इसका सबूत अक्सर चीन के वैज्ञानिक और डॉक्टरों के बयान से सामने आता रहता है। चीन की साजिश को बेनकाब करने की इसी कोशिश में छठे डॉक्टर की मौत हो गई। उनका नाम हू वीफेन्ग (Dr Hu Weifeng) था। वह इलाज के दौरान अपनी काली हुई स्किन की वजह से सुर्खियों में आए थे। बताया जाता है कि एंटीबायोटिक्स के ज्यादा इस्तेमाल की वजह से शरीर का रंग काला हो गया था।

चीनी मीडिया के मुताबिक, हू वीफेन्ग बीते चार महीने से संक्रमण से जूझ रहे थे। हालांकि बीच में खबर आई थी कि वे रिकवर हो रहे हैं इसीलिए उनका वेंटिलेटर हटा दिया गया है। वे जनवरी में कोरोना संक्रमित पाए गए थे। जिस अस्पताल में हू वीफेन्ग काम करते थे वहां डॉक्टर ली वेनलियान्ग भी काम करते थे। उन्होंने ही बीते साल दिसंबर में कोरोना के बारे में सबसे पहले चेतावनी दी थी। कहा जाता है कि तब से ही चीनी प्रशासन उन्हें अपना मुंह बंद रखने की धमकी दे रहा था। वेनलियान्ग ने अस्पताल से एक वीडियो के ज़रिए अपनी कहानी पोस्ट की थी। मगर बाद में उनकी मौत हो गई। ठीक ऐसे ही कोरोना से जूझते हुए वीफेंग ने भी दम तोड़ दिया, लेकिन उनकी मौत चर्चा का विषय बनी हुई है।

चीनी मीडिया के मुताबिक वीफेंग करीब एक महीने से अधिक वक्त तक आईसीयू में भर्ती थे। इलाज के दौरान स्थिति बिगड़ने पर उनकी मौत हो गई। कोरोना वायरस से उनके शरीर में कई तरह की दिक्कतें आने लगी थीं। इस सिलसिले में पहले वुहान सेंट्रल हॉस्पिटल के एक प्रवक्ता ने कहा था कि लीवर के काम करने में गड़बड़ी और एंटीबायोटिक्स के ज्यादा इस्तेमाल से उनकी स्किन काली पड़ गई थी। वीफेंग की तस्वीरें सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई थीं।

coronavirus Coronavirus Outbreak
Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned