बाजार में जल्द आएगी Coronavirus की सबसे सस्ती दवा, DCGI से मिली अनुमति, जानिए कितनी है कीमत

Highlights
- स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) के आंकड़ों के मुताबिक कोरोना वायरस (Coronavirus Outbreak) के चलते अब तक 30601 लोगों की मौत हो चुकी है
- दुनिया भर के वैज्ञानिक कोरोना वायरस महामारी की जंग लड़ने के लिए वैक्सीन (Coronavirus vaccine) की रिसर्च में लगे हुए हैं
- इस बीच एक कंपनी ने कोरोना वायरस दवा (Coronavirus medicine) लाने का दावा किया है

नई दिल्ली. भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus In India) के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं। पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना (Coronavirus Update) के 49 हजार 310 नए के सामने आए हैं। वहीं 740 लोगों की मौत भी हो गई है। इसके साथ अब कुल संक्रमितों की संख्या 12 लाख 87 हजार 945 पर पहुंच गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) के आंकड़ों के मुताबिक कोरोना वायरस (Coronavirus Outbreak) के चलते अब तक 30601 लोगों की मौत हो चुकी है।

दुनिया भर के वैज्ञानिक कोरोना वायरस महामारी की जंग लड़ने के लिए वैक्सीन (Coronavirus vaccine) की रिसर्च में लगे हुए हैं। इस बीच एक कंपनी ने कोरोना वायरस दवा (Coronavirus medicine) लाने का दावा किया है। कंपनी का दावा है कि यह एंटीवायरल ड्रग (Antiviral drug) है, जो कोरोना वायरस से लड़ने में मरीजों की मदद करेगा।

कोरोना की सबसे सस्ती दवा

यह कोरोना वायरस (Coronavirus) की सबसे सस्ती दवा बताई जा रही है। खास बात यह है कि इस दवा को बाजार में लाने की अनुमति भी मिल गई है। ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (Drug Controller General of India) (DCGI) ने बाजार में लाने के लिए दवा कंपनी को अनुमति दे दी है। जानकारी के मुताबिक इस दवा की एक टेबलेट मात्र 59 रुपये में मिलेगी।

जानिए, क्या है दवा का नाम

इस दवा का नाम फैवीटॉन (Faviton) है। इस दवा को ब्रिन्टन फार्मास्यूटिकल्स (Brinton pharmaceuticals) ने बनाया है। इस दवा को फैवीपिरावीर (Favipiravir) के नाम से भी बाजार में बेचा जाता है।

जानिए इसकी सही कीमत

एक अंग्रेजी रिपोर्ट के मुताबिक ब्रिन्टन फार्मा ने कहा है कि फैवीटॉन 200 मिलीग्राम की टैबलेट में आएगी। एक टैबलेट की कीमत 59 रुपये होगी। यह कीमत मैक्सिमम रिटेल प्राइज होगी। इससे ज्यादा कीमत पर यह दवा नहीं बेची जाएगी।

फिक्स है दवा की कीमत

ब्रिन्टन फार्मा (Brinton pharma) के सीएमडी राहुल कुमार दर्डा (CMD Rahul Kumar Darda) ने बयान देते हुए बताया कि "हम चाहते हैं कि ये दवा देश के हर कोरोना मरीज को मिले। हम इसे हर कोविड सेंटर पर पहुंचाएंगे। हमारी दवा की कीमत भी फिक्स है। ये एक सस्ती दवा है।''

हल्के मरीजों के लिए भी उपयोगी है दवा

कंपनी के मुताबिक इस महामारी के दौर में हर किसी को कोरोना वायरस की दवा का इंतजार है। फैवीपिरावीर (Favipiravir) दवा की जरूरत सबको है। ये दवा उन मरीजों के लिए उपयोगी है जिन्हें कोरोना का हल्का या मध्यम दर्जे का कोरोना संक्रमण है।

जल्द आएगी बाजार में

जानकारी के मुताबिक भारत में फैवीपिरावीर (Favipiravir) को डीसीजीआई ने कोरोनावायरस की आपातकालीन स्थिति को देखते हुए जून में अप्रूवल दिया था। अब इसे बाजार में लाने की अनुमति मिल चुकी है। जल्द ही यह बाजार में उपलब्ध होगी।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned