कोरोना की वजह से प्रसिद्ध जादूगर रॉय हॉर्न की गई जान, 75 वर्ष की आयु में ली आखिरी सांस

HIGHLIGHTS

  • प्रसिद्ध जादूगर रॉय हॉर्न ने अस्पताल में ली आखिरी सांस
  • 2003 में करतब दिखाते समय घायल होने के बाद हॉर्न ने संन्यास ले लिया था
  • 'सिगफ्रीड एंड रॉय' की जोड़ी ने लाखों लोगों को अपने जादू से अचंभित किया

लास बेगास। कोरोना वायरस के कारण अब तक दुनिया के करीब 3 लाख लोग मारे जा चुके हैं। इसमें कई दिग्गज हस्तियां व नेता भी शामिल हैं। अब इस कड़ी में एक और नाम जुड़ गया है। कोरोना वायरस की वजह से प्रसिद्ध जादूगर रॉय हॉर्न की मौत हो गई। वे 75 वर्ष के थे।

पूरी दुनिया में प्रसिद्ध 'सिगफ्रीड एंड रॉय' की जोड़ी ने लाखों लोगों को अपने जादू से अचंभित करते हुए मनोरंजन किया। 2003 में एक बार एक करतब दिखाते हुए हॉर्न घायल हो गए थे। इसके बाद उन्होंने संन्यास ले लिया और जादूगरी की दुनिया में कभी कदम नहीं रखा।

Coronavirus: लॉकडाउन में कंपनियां खुलने के बाद कर्मचारियों को इस वजह से नहीं मिलेगी एंट्री

बता दें कि हॉर्न ने शुक्रवार को लास वेगस के एक अस्पताल में आखिरी सांस ली। कुछ दिन पहले कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

सिगफ्रीड फिशबैकर ने एक बयान में कहा कि आज दुनिया ने जादू के महान शख्सियत को खो दिया है, लेकिन मैंने अपने सबसे अच्छे दोस्त को खोया है। उन्होंने आगे कहा कि जब हम दोनों मिले, तब से ही मैं जानता था कि मैं और रॉय साथ मिलकर दुनिया बदल देंगे। रॉय के बिना कोई सिगफ्रीड नहीं हो सकता।

चीता व बाघ के साथ दिखाते थे करतब

आपको बता दें कि हॉर्न अपने पालतू जानवरों के जरिए अलग-अलग करतब दिखाते थे। वे अपने साथ बाघ और चीता जैसे खतरनाक जानवरों को रखते थे और उनके साथ ही जादूगरी दिखाते थे। हालांकि अक्टूबर 2003 में एक करतब दिखाने के दौरान वे घायल हो गए थे। लास वेगस के मिराज होटल-कैसीनो में करतब दिखा रहे हॉर्न पर उस दौरान मॉन्टेक नामक एक बाघ ने हमला कर दिया था। इसके बाद उन्होंने इस पेशे से उन्होंने संन्यास ले लिया।

coronavirus
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned