दुनियाभर में Coronavirus से खलबली, ये देश हैं सबसे ज्यादा प्रभावित

HIGHLIGHTS:

  • कोरोना वायरस ( Corornavirus ) की वजह से पूरी दुनिया में अब तक 3200 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है
  • दुनिया के केवल 16 देशों में ही अब तक 95700 लोग संक्रमित हो चुके हैं
  • चीन के वुहान से निकलकर कोरोना वायरस दुनिया के करीब 80 देशों में पैर पसार चुका है

 

नई दिल्ली। जानलेवा रहस्यमय कोरोना वायरस ( Coronavirus ) की वजह से दुनिया में दहशत का महौल है और लोग डर व खौफ के साए में जीन को मजबूर हो गए हैं। दरअसल, चीन के वुहान से निकलकर कोरोना वायरस दुनिया के करीब 80 देशों में पैर पसार चुका है।

इस वायरस की वजह से पूरी दुनिया में अब तक 3200 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि करीब 1 लाख लोग इससे संक्रमित हैं। दुनिया के केवल 16 देशों में ही अब तक 3281 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं 95700 लोग संक्रमित हैं।

Coronavirus इटली में बरपा रहा है कहर, देश के सभी स्कूल-कॉलेज बंद

इस वायरस के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए तमाम देशों की ओर से कई कदम उठाए जा रहे हैं। नतीजतन दुनियाभर में करीब 30 करोड़ विद्यार्थी स्कूल नहीं जा पा रहे हैं। वे अपने घरों में कैद होकर रहने को विवश हो गए हैं। सभी देशों में इस वायरस को लेकर जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें हांगकांग, ताइवान, जापान और दक्षिण कोरिया जैसे देश शामिल हैं।

यहां पर शहरों में पोस्टर लगाकर, टीवी और अखबारों में विज्ञापन देकर लोगों को बताया जा रहा है। ताकि इसे फैलने से रोका जा सके। इसके अलावा भी तमाम देश हैं जहां पर युद्धस्तर पर कार्य किया जा रहा है। आइए जानते हैं कौन-कौन से ऐसे प्रमुख देश हैं, जहां पर कोरोना वायरस ने सबसे अधिक प्रभावित किया है..

चीन-: कोरोना का सबसे अधिक प्रभाव चीन में पड़ा है, क्योंकि यह वायरस चीन के वुहान शहर से ही फैलना शुरु हुआ था। अब ये वायरस फैलते हुए 81 देशों तक पहुंच चुका है। कोरोना की वजह से चीन में 3 हजार से अधिक मौतें हो चुकी है, जबकि 80 हजार से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं।

चीन में इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए सोशल मीडिया पर दिए जा रहे गलत और भ्रामक जानकारियों व वीडियो को सेंसरशिप के दायरे में ले आई है। इसके अलावा गलत सूचनाओं को ब्लॉक कर ही है। सरकार ने साफ-साफ कहा है कि गलत सूचना फैलाने वालों पर कड़ी कार्रवाई होगी। चीन ने इस वायरस के प्रकोप को देखते हुए देश के सबसे बड़े लूनर फेस्टिवल पर भीड़ जुटने पर प्रतिबंध लगा दिया, साथ ही राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने जापान की यात्रा रद्द कर दी है।

इसके अलावा चीनी सरकार ने कई देशों को मदद करने का फैसला किया है। इसमें दक्षिण कोरिया, कंबोडिया, इराक, श्रीलंका जैसे देश शामिल हैं। चीनी सरकार ने इन देशों को कोरोना वायरस से लड़ने के लिए डोनेशन देने का ऐलान किया है।

दक्षिण कोरिया-: कोरोना वायरस से चीन के बाद सबसे अधिक दक्षिण कोरिया प्रभावित हुआ है। दक्षिण कोरिया में अब तक 35 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि संक्रमितों की संख्या 5766 हो गई है। सियोल विदेश मंत्रालय के अनुसार, अब तक 36 देशों पर प्रतिबंध लगाए हैं जो हाल ही में दक्षिण कोरिया में आए। कोरोना वायरस से निपटने के लिए दक्षिण कोरिया में कई कदम उठाये जा रहे है। देश में आयोजित होने वाले कई कार्यक्रमों को रद्द या स्थगित कर दिया गया है। प्रशासन ने शुक्रवार से मास्क निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया है।

coronavirus s: दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला, सरकारी दफ्तरों में बायोमेट्रिक अटेंडेंस पर लगाई रोक

ईरान-: खतरनाक कोरोना वायरस से ईरान में कम से कम 107 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 3,513 लोग संक्रमित हैं। सरकार ने वायरस को फैलने से रोकने के लिए कहा है कि बड़े शहरों के बीच यात्रा को कम करने के लिए कई नाके बनाए जाएंगे। साथ ही लोगों से कागजी नोट के इस्तेमाल को कम करने की अपील की गई है।

ईरान में यह घोषणा फिलीस्तीनी अधिकारियों के बेथलहम नेटिविटी चर्च को कोरोना वायरस के मद्देनजर अनिश्चितकाल के लिए बंद करने की जानकारी देने के बाद की है। ईरानी सरकार ने इसके अलावा सभी पर्यटकों के वेस्ट बैंक में प्रवेश पर भी रोक लगा दी।

ईरान के स्वास्थ्य मंत्री सईद नमकी ने नए प्रतिबंधों की जानकारी देते हुए बताया कि फारसी का नया साल कहे जाने वाले नौरोज के मौके पर स्कूलों और विश्वविद्यालय बंद रहेंगे। इसके अलावा सभी स्कूलों और विश्वविद्यालयों को अप्रैल तक के लिए बंद कर दिया गया है। इतना ही नहीं, उन्होंने कहा कि ईंधन भरने वाले स्टेशनों पर लोगों को अपने वाहन में ही बैठे रहना चाहिए और स्टेशन के अटेडेंट को ही काम करने देना चाहिए ताकि वायरस के प्रसार को रोका जा सके।

इटली-: कोरोना वायरस ने इटली में भी कहर बरपा रहा है। इटली के स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, इटली में कोरोना वायरस से अब तक 107 मरीजों की मौत हो चुकी है, जबकि 3,089 लोग इससे संक्रमित हैं। सरकार ने मामले गी गंभीरत को देखते हुए देश के सभी स्कूल और विश्वविद्यालय को 15 मार्च तक के लिए बंद कर दिया है। इतना ही नहीं, सरकार किस (KISS) करने पर भी प्रतिबंध लगाने की तैयारी कर रही है। कुल मिलाकर किसी भी परिस्थिति में लोगों को भीड़ भाड़ वाली जगह पर जुटने से रोकना है, तोकि वायरस फैल न सके।

अमरीका:- अमरीका में कोरोना वायरस की वजह से अब तक 14 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके कोरोना को फैलने से रोकने के लिए सरकार तमाम प्रयास कर रही है। इस बीच कोरोना के चलते जेम्स बॉन्ड की नई फिल्म 'नो टाइम टू डाइ' की रिलीजिंग डेट को 7 महीने के लिए आगे बढ़ा दिया गया है।

India-EU Summit: Coronavirus के खतरे के बीच पीएम मोदी का बेल्जियम दौरा टला

न्यूयॉर्क प्रशासन ने वायरस को फैलने से रोकने के लिए ने 15 लाख मास्क बंटवाए हैं। 3 लाख की और व्यवस्था की है। इसके अलावा कोरोना मरीजों के लिए अलग से अस्पतालों में 1200 से बेड की व्यवस्था की गई है। दूसरी ओर कैलिफोर्निया में स्टेट इमरजेंसी लगा दी गई है, जबकि अमेजन ने अमरीका में अपने कर्मचारियों से वर्क फ्रॉम होम करने के लिए कहा है। इधर वॉशिंगटन के एक जिले में सभी स्कूलों को बंद कर दिया गया है।

फ्रांस:- आपको बता दें कि यूरोपीय देशों में भी कोरोना वायरस लगातार अपना प्रभाव दिखा रहा है। वायरस के प्रभाव को देखते हुए IOC क्षेत्र में 100 स्कूल बंद कर दिए गए हैं। पेरिस के लोउवरे म्यूजिम, मिलान के ला स्केला ओपेरा हाउस को भी बंद कर दिया गया है। इसके अलावा पेरिस हाफ मैराथन भी निरस्त कर दी गई है।

बता दें कि जापान सरकार भी कोरोना वायरस के संकट को देखते हुए 2020 टोक्यो ओलिंपिक को आगे बढ़ाने या निरस्त करने के बारे में विचार कर रही हैं। इसको लेकर ओलंपिक कमेटी से बातचीत चली रही है।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned