जेंडर परिवर्तन के बाद मां और पिता दोनों बनेगा यह डॉक्टर

- गुजरात के युवा चिकित्सक ने फ्रीज करवाया वीर्य
- देश में संभवत: अपने किस्म का पहला केस, 24 वर्ष का है डॉ. जेसनूर दायरा

अहमदाबाद । आम तौर पर पिता बनने के लिए कुछ परिस्थितियों में लोग वीर्य (स्पर्म) फ्रीज कराते हैं, लेकिन यहां एक युवा चिकित्सक डॉ. जेसनूर दायरा ने अपना वीर्य फ्रीज करवाया है, ताकि वह मां बन सके। वह 24 साल का है और ऑपरेशन से जेंडर बदलकर महिला बनने जा रहा है। मां बनने के लिए सरोगेसी की जरूरत होगी। देश में संभवत: यह अपने किस्म का पहला मामला है। गोधरा का मूल निवासी जेसनूर की धीरे-धीरे आदतें बदलने लगीं। जब वह आठवीं कक्षा में पहुंचा तो महिलाओं के कपड़े पहनने लगा। परिजन चाहते थे कि वह लड़के के रूप में ही रहे। रूस से एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी कर लौटने के बाद उसमें अपनी पहचान को बताने का साहस आया। अब वह महिला बनकर मां बनने का सुख चाहता है। आगामी दिनों में वह ऑपरेशन से जेंडर परिवर्तन कराएगा।

अब डोनर का अंडाणु लिया जाएगा-
देश की जानी-मानी आइवीएफ विशेषज्ञ डॉ. नयना बेन पटेल ने बताया कि पिछले दिनों यह युवक उनके अस्पताल आया था। उसकी इच्छा के अनुसार आणंद में उसका वीर्य लेकर सुरक्षित कर दिया गया। वह बच्चे की मां और पिता दोनों बनना चाहता है। इसके तहत एक डोनर का अंडाणु लिया जाएगा। युवक विदेश में ऑपरेशन कराने का इच्छुक है।

जल्द ऑपरेशन कराने की है ख्वाहिश-
डॉ. नयना पटेल ने बताया कि युवक की इच्छा जल्द से जल्द ऑपरेशन कराने की है, ताकि उसमें पुरुष हार्मोन न बनें। उसके अंगों की मदद से प्लास्टिक सर्जरी के जरिए योनि का आकार दिया जाएगा। इसके बाद वह मां और बाप दोनों बन सकेगा।

विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned