डोनाल्ड ट्रंप पर चीन का गंभीर आरोप, कहा- कोरोना से बचने के लिए जादू-टोना का ले रहे हैं सहारा

HIGHLIGHTS

  • चीन ( China ) ने कहा है कि अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( Donald Trump ) कोरोना से निपटने के लिए जादू-टोना का सहारा ले रहे हैं
  • ग्लोबल टाइम्स के एडिटर हू शिजिन ने कहा कि यही कारण है कि अमरीका में वायरस की वजह से 90 हजार से अधिक लोगों की अब तक मौत हो चुकी है

वाशिंगटन। कोरोना वायरस ( Coronavirus ) के खतरे से निपटने के लिए पूरे विश्व में अलग-अलग तरह के शोध कार्य चल रहे हैं। इस बीच अमरीका और चीन ( America ans China ) के बीच तकरार बढ़ता ही जा रहा है। दरअसल, अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( American President Donald Trump ) कोरोना को लेकर कई बार चीन को जिम्मेदार ठहरा चुके हैं और इससे लड़ने के तौर तरीकों को लेकर भी सवाल खड़े कर चुके हैं। लेकिन अब चीन ने उल्टा ही अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप पर कोरोना से निपटने के तौर तरीकों को लेकर निशाना साधा है।

चीन ने अब सबसे गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कोरोना से निपटने के लिए जादू-टोना का सहारा ले रहे हैं। चीन ने यह बयान इस संदर्भ में दिया है कि ट्रंप ने सार्वजनिक तौर पर यह स्वीकार किया है कि वे कोरोना वायरस से बचने के लिए एंटी मलेरिया दवाएं ले रहे हैं। अब इसको लेकर चीन ट्रंप पर हमलावर हो गया है।

Coronavirus को लेकर WHO की भूमिका पर होगी जांच, सदस्य देशों की आम सहमति पर प्रस्ताव पास

मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि चीन की ओर से प्रकाशित स्टेट न्यूज पेपर ग्लोबल टाइम्स के एडिटर हू शिजिन ने लिखा है कि कोरोना वायरस से लड़ने के लिए अमरीका जादू-टोना के सहारा ले रहा है। यही कारण है कि अमरीका में वायरस की वजह से 90 हजार से अधिक लोगों की अब तक मौत हो चुकी है। हालांकि उन्होंने बाद में अपना ट्वीट डिलीट कर दिया।

बीजिंग को बदनाम कर रहा है अमरीका: चीन

ट्रंप के आरोपों को लेकर चीन ने कहा है कि अमरीका बीजिंग को बदनाम करने की साजिश कर रहा है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लीजियन ने भी कहा है कि अमरीका कोरोना वायरस से निपटने में असमर्थ रहा है। लिहाजा अब अपने देश की जनता का ध्यान भटकाने के लिए बीजिंग को निशाना बना रहा है और बदनाम कर रहा है।

बता दें कि इससे पहले ब्रिटेन ने भी ट्रंप के बयान से दूरी बना ली है, जिसमें ट्रंप ने यह माना कि वे खुद को कोरोना वायरस से बचाने के लिए एंटी मलेरिया ड्रग हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा ले रहे हैं। ब्रिटेन ने साफ कहा है कि अभी तक इसका कोई प्रमाण नहीं सामने आया है कि कोरोना के इलाज में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन कारगर है।

Corona Effect: ट्रंप ने कहा- कोरोना से बचाव के लिए अभी हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन एक मात्र विकल्प

आपको बता दें कि ट्रेप ने यह स्वीकार किया था कि वे करीब 15 दिन से हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन का सेवन कर रहे हैं, क्योंकि डॉक्टरों ने इस दवा को कारगर बताया है। बहरहाल, इस दवा को लेकर पूरी दुनिया में अलग-अलग मत हैं। हालांकि अभी तक कोरोना के संदर्भ में इसके कोई ठोस परिणाम सामने नहीं आए हैं।

Donald Trump coronavirus china Coronavirus
Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned