दुबई ने भारत से आने वालों को दी यात्रा प्रतिबंधों में छूट, टिकट बुक करने से पहले जान लें नई गाइडलाइंस

कोरोना वायरस के मामलों की कमी आने के बाद दुबई ने भारत से आने वाले यात्रियों के लिए प्रतिबंधों में ढील दी है। दुबई की यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए कुछ शर्तें भी रखी है।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के मामलों की कमी आने के बाद दुबई ने भारत से आने वाले यात्रियों के लिए प्रतिबंधों में ढील दी है। दुबई की यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए कुछ शर्तें भी रखी है। एक रिपोर्ट के अनुसार, इसके लिए उन्हें संयुक्त अरब अमीरात(यूएई) द्वारा स्वीकृत कोरोना वैक्सीन की दो डोज लगी होनी जरूरी है। दुबई सरकार ने शनिवार को भारत, दक्षिण अफ्रीका और नाइजीरिया से आने वाले अपने निवासियों के लिए यात्रा प्रतिबंधों में ढील दी है। संयुक्त अरब अमीरात ने दूसरी लहर के आने के बाद अप्रैल के अंत से भारत से आने वाली यात्री उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया था।

यह भी पढ़ें :— एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के मुख्य खोजकर्ता का दावा, कोविशील्ड की दो डोज में 12 से 16 हफ्ते का अंतराल सही

वैध वीजा के साथ, आरटी-पीसीआर की नेगेटिव रिपोर्ट
दुबई में संकट और आपदा प्रबंधन की सर्वोच्च समिति, शेख मंसूर बिन मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम की अध्यक्षता में यह फैसला किया गया है। 23 जून से दक्षिण अफ्रीका, नाइजीरिया और भारत से आने वाले यात्रियों के लिए दुबई के यात्रा प्रोटोकॉल के अपडेट का ऐलान किया है। भारत से दुबई आने वाले यात्रियों को केवल वैध वीजा की आवश्यकता होगी। हालांकि, दक्षिण अफ्रीका और नाइजीरिया से अप्रवासी यात्रियों को भी टीकाकरण और पीसीआर परीक्षण शर्तों के अधीन यात्रा करने की अनुमति है। रिपोर्ट में कहा गया है कि यात्रा से 48 घंटे पहले लिए गए आरटी-पीसीआर टेस्ट में नेगेटिव रिपोर्ट की भी जरूरत होगी।

यह भी पढ़ें :— मुंबई में वैक्सीनेशन फर्जीवाड़ा: ट्रेन से बिहार भाग रहे आरोपी को GRP ने सतना में पकड़ा, 410 लोगों से वसूले 5 लाख

इन चार टीकों को दी हैं मान्यता
कोरोना वायरस के डेल्‍टा वैरिएंट के सामने आने के बाद भारतीय यात्रियों के लिए फिर से प्रतिबंध लगा दिए गए थे। भारत से दुबई आने वाले यात्रियों वैध रिहायशी वीजा और संयुक्त अरब अमीरात द्वारा मान्य कोविड-19 टीके की दोनों डोज लेना जरूरी होगा। नए प्रोटोकॉल के अनुसार इन नियमों का पालन करने वाले यात्रियों को दुबई की यात्रा करने की अनुमति होगी। वर्तमान में सिनोफार्म, फाइजर-बायोएनटेक, स्पूतनिक वी और ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन यूएई सरकार द्वारा अप्रूव्ड हैं।

दुबई पहुंचने बाद करना होगा पीसीआर टेस्ट
भारतीय यात्रियों को दुबई की उड़ान से 4 घंटे पहले रैपिड पीसीआर टेस्‍ट कराना होगा। दुबई पहुंचने पर वहां भी पीसीआर टेस्‍ट कराना होगा। इसके अलावा दुबई पहुंचने के बाद भारत से यात्रियों को तब तक क्वारंटाइन से गुजरना होगा जब तक कि उनका आरटी-पीसीआर टेस्ट रिजल्ट नहीं आ जाता है। इसका समय 24 घंटे का होता है। समिति ने नए नियमों के 23 जून से प्रभावी होने की घोषणा की है।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned